लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार के कार्यकाल के साढ़े चार वर्ष पूरा होने पर भाजपा विजय उत्सव मना रही है। उधर विपक्षी दल लगातार हमलावर हैं। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के बाद मायावती और प्रियंका गांधी वाड्रा ने योगी आदित्यनाथ सरकार की सारी उपलब्धियों को हवा-हवाई बताया है।

बहुजन समाज पार्टी की अधयक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती और कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने योगी आदित्यनाथ सरकार के साढ़े चार वर्ष का कार्यकाल पूरा होने के उत्सव पर निशाना साधा है। इन दोनों नेताओं ने कहा कि सरकार के विज्ञापन और दावे अधिकांश हवा-हवाई हैं। मायावती के साथ ही प्रियंका गांधी ने सरकार की इस उपलब्धि पर ट्वीट किया है।

बसपा मुखिया ने ट्वीट में लिखा है कि बसपा प्रमुख ने ट्वीट करते हुए लिखा कि उत्तर प्रदेश की भाजपा की सरकार के बदलाव के 4.5 वर्ष का विज्ञापन व दावे अधिकांश हवा-हवाई व जमीनी हकीकत से बहुत दूर है। इनकी कथनी व करनी में अन्तर होने के कारण खासकर यहां की बढ़ती गरीबी, बेरोजगारी व महंगाई आदि से जनता की बदहाली जग-जाहिर है।

कांग्रेस की महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार को चाहिए था कि साढ़े चार वर्ष के अपने कार्यकाल पर जनता के सवालों का जवाब दे। लेकिन नहीं। फिर झूठ, झूठ और सिर्फ झूठ।

उन्होंने आगे लिखा, लाखों खाली पदों पर नौकरियां देने और लटकी भर्तियां कराने पर, किसान को गन्ना, गेहूं, धान, आलू के दाम देने में, बिजली के दाम कम करने में और महंगाई रोकने में उप्र सरकार फेल रही। असफलताओं का उत्सव मनाती जनविरोधी भाजपा सरकार।

यह भी पढ़ें:UP सरकार का साढ़े चार वर्ष का कार्यकाल, CM योगी आदित्यनाथ बोले- हर संकट के समय जनता के साथ रहे हम

इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने कार्यकाल का रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए कहा कि यह पूरा कार्यकाल अविस्मरणीय रहा है। पहले जब उत्तर प्रदेश में नेता सीएम बनते थे तो हवेली बनाने की प्रतिस्पर्धा चलती थी। उनकी सरकार जनता के लिए समर्पित रही। 

यह भी पढ़ें:योगी आदित्यनाथ सरकार के चार वर्ष पर अखिलेश का हमला, बोले- दंभी सरकार सिर्फ छह महीने की मेहमान

Edited By: Dharmendra Pandey