लखनऊ, राज्य ब्यूरो। Medical Education In UP यूपी में प्राइवेट डेंटल कालेजों में शैक्षिक सत्र 2022-23 में बीडीएस व एमडीएस कोर्स की फीस नहीं बढ़ाई जाएगी। पिछले शैक्षिक सत्र वर्ष 2021-22 में तय किया गया शुल्क ही विद्यार्थियों से लिया जाएगा।

डेंटल कालेज के छात्र-छात्राओं को शासन ने दी बड़ी राहत

  • चिकित्सा शिक्षा विभाग की ओर से फीस न बढ़ाए जाने के आदेश जारी कर दिए गए हैं।
  • पहले मेडिकल कालेजों में एमबीबीएस, एमडी व एमएस कोर्सेज की फीस न बढ़ाने का निर्णय लिया गया था और अब डेंटल कोर्सेज के छात्रों को भी बड़ी राहत दे दी गई है।
  • विशेष सचिव, चिकित्सा शिक्षा दुर्गा शक्ति नागपाल की ओर से प्राइवेट डेंटल कालेजों की फीस न बढ़ाए जाने के आदेश जारी कर दिए गए हैं।
  • मालूम हो कि पिछले सत्र में बीडीएस कोर्स की विभिन्न डेंटल कालेजों में प्रतिवर्ष फीस न्यूनतम 2.93 लाख रुपये से लेकर 3.60 लाख रुपये थी।
  • वहीं एमडीएस कोर्स न्यूनतम छह लाख रुपये से लेकर आठ लाख रुपये प्रतिवर्ष के बीच थी।
  • दूसरी ओर नीट पीजी 2022 के तहत एमडी, एमएस व डीएनबी आदि कोर्सेज में दाखिले के लिए चल रही प्रवेश काउंसिलिंग में शनिवार को मनपसंद सीट भरने का विकल्प दिया गया।
  • रविवार को भी अभ्यर्थी मनपसंद सीट का विकल्प भर सकेंगे। पहले चरण की काउंसिलिंग 12 अक्टूबर को खत्म होगी।

इंजीनियरिंग और प्राइवेट मेडिकल कालेजों की फीस में भी शासन ने दी राहत

बता दें क‍ि इससे पूर्व शासन ने यूपी के प्राइवेट इंजीनियरिंग कालेज और प्राइवेट मेडिकल कालेजों में एमबीबीएस, एमडी व एमएस आदि कोर्सेज की फीस इस शैक्षिक सत्र वर्ष 2022-23 में न बढ़ाने का आदेश पहले ही जारी कर द‍िया है। इन कोर्सेज में पिछले शैक्षिक सत्र 2021-22 में जो फीस विद्यार्थियों से ली गई थी, वही फीस इस शैक्षिक सत्र में भी ली जा सकेगी।

Edited By: Prabhapunj Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट