लखनऊ, जागरण संवाददाता। बुराई के प्रतीक रावण के पुतले के दहन को लेकर सुबह से रहा असमंजस देर शाम तक बना रहा। ऐशबाग के सबसे ऊंचे रावण का पुतला खड़ा करने से पहले बारिश से बचाने के इंतजाम के साथ खड़ा किया गया। सफेद पन्नी से ढके रावण का देर रात पूर्व उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा ने दहन किया। पूर्व उप मुख्यमंत्री ने कहा कि सच्चाई के प्रतीक मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम ने बुराई पर विजय पताका लहारा कर यह बता दिया है कि सच्चाई की हमेशा जीत होती है।

बुराई को परास्त होना पड़ता है। बारिश के बावजूद लोगों में उत्साह हमारी सांस्कृतिक विरासत ही है जो हजारों साल बाद भी श्रीराम के आदर्श को जीवंत किए हुए है। रामलीला के संयोजक आदित्य द्विवेदी ने बताया कि बारिश के बावजूद परंपरा का निर्वहन किया गया। परिसर में जलभराव की वजह से हाल में आयाेजन किया गया। अध्यक्ष हरिश्चंद्र अग्रवाल ने बताया कि सर तन से जुदा, कट्टर पंथी विचारधारा और राष्ट्रद्रोही तत्वों का समूल विनाश थीम पर बने रावण को जलाकर अच्छाई की बुराई पर जीत का जश्न मनाया गया।

आतिशबाजी के साथ रावण का दहन किया गया। गुरुवार को दिन में भरत मिलाप शोभायात्रा निकाली जाएगी। शाम को मंचन होगा। शाम 8:30 बजे दहन होगा। महापौर संयुक्ता भाटिया समेत रामलीला समिति के पदाधिकारी शामिल हुए। कानपुर रोड एलडीए कालोनी के जय जगत पार्क में आलमबाग से श्रीराम की विजय शाेभायात्रा के साथ रावण व कुंभकरण के पुतले का दहन किया गया। संयोजक सदस्य अनिल कुमार ने बताया कि बारिश की वजह से व्यवधान हुआ और देर शाम दहन किया गया।

कमेटी के अध्यक्ष सौरभ सिंह मोनू, अतुल तिवारी रात नौ बजे रावण और कुंभकरण के पुतले का दहन किया गया। कानपुर रोड सेक्टर-एफ के रामलीला समिति के अध्यक्ष गोपाल जी मिश्रा ने बताया कि सचिव आयोग शुक्ला, वरिष्ठ उपाध्यक्ष विनोद रात्रा और विजय कुमार यादव के संयोजन में शोभायात्रा के साथ रात नौ बजे रावण के 45 फीट और मेघनाद के 40 फीट रावण के पुतले का दहन किया गया। बारिश से रावण का पुतला खराब हो गया था। उसे दोबार सही किया गया।

केंद्रीय शहरी कार्य राज्यमंत्री कौशल किशोर मुख्य अतिथि शामिल हुए। गोमतीनगर के बड़ी जुगौली रेलवे क्रांसिंग के पास रावण व कुंभकरण का पुतला जलाया गया। कमेटी के अध्यक्ष अजय यादव ने बताया कि बारिश के चलते छोटे स्तर पर आयोजन किया गया। दहन से पहले श्रीराम सेना और रावण सेना के बीच युद्ध का प्रदर्शन किया गया। एचएएल में महाप्रबंधक सुनील कुमार श्रीवास्तव ने पुतले का दहन किया गया। चिनहट में 30 फीट के रावण के पुतले का दहन किया गया।

डालीगंज के मौसमगंज रामलीला समिति की ओर से दहन किया गया। राजाजीपुरम के मिनी एलआइजी में ओंकारेश्वर मंदिर के पास रावण दहन किया गया। सदर में सदर रामलीला मैदान में रावण का पुतला जलाया गया। दिलीप कुमार जायसवाल के संयोजन में रामलीला के साथ ही चिनहट में रावण का दहन किया गया। शहीद पथ के तुलसियानी गोल्फ व्यू अपार्टमेंट परिसर में सुषमा मिश्रा के संयोजन में रावण दहन किया गया। दहन में आसपास के लोग शामिल हुए।

Edited By: Vrinda Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट