लखनऊ, राज्य ब्यूरो। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने लोक निर्माण विभाग (एनएच डिवीजन) के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे राम-वन-गमन मार्ग के निर्माण कार्य को शीर्ष प्राथमिकता के आधार पर शुरू कराएं। इसमें हर स्तर पर संबंधित अधिकारियों से समन्वय कर सभी औपचारिकताएं शीघ्र पूरी की जाएं।

लोक निर्माण विभाग के अनुसार राम वन गमन मार्ग का निर्माण चार पैकेज में होगा, जिसमें पैकेज एक का निर्माण जल्द ही शुरू हो जाएगा। राष्ट्रीय मार्ग संख्या-731ए के पैकेज-एक (मोहनगंज -जेठवारा -अवतारपुर) टू लेन विथ पेब्ड शोल्डर का कार्य, जिसकी लंबाई 35 किलोमीटर है और लागत 264.86 करोड़ है। संबंधित फर्म के पक्ष में 129.70 करोड़ की स्वीकृति पत्र निर्गत किया जा चुका है व अनुबंध गठन प्रक्रिया में है। शीघ्र ही कार्य शुरू होगा।

लोक निर्माण विभाग के अनुसार पैकेज दो व तीन की स्वीकृति एक पखवाड़े के अंदर प्राप्त होने के आसार हैं। पैकेज -दो (अवतारपुर- श्रृंगवेश्वरपुर-मूरतगंज) गंगा नदी पर सेतु सहित (29.682 किमी) 1719.96 करोड़ का आगणन तैयार कर उच्च स्तर पर भेजा जा चुका है। ऐसे ही पैकेज-तीन (मूरतगंज-समदा-ओसा-महेवाघाट) 48 किमी का संरेखण अनुमोदन पहले ही प्राप्त हो गया है और कार्य का डीपीआर व 1361.89 करोड़ का

आगणन परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय को भेजा जा चुका है। पैकेज-4 के लिए राष्ट्रीय मार्ग संख्या-731ए के ही संरेखण पर विकसित करने के लिए अनुमोदन प्राप्त हो चुका है। इसके अलावा टोल प्लाजा, माइनर ब्रिज व अन्य कार्यों के लिए भूमि अर्जन की प्रक्रिया नियमानुसार की जा रही है।

Edited By: Anurag Gupta