राज्य ब्यूरो, लखनऊ : कोविड व अन्य कारणों से जान गंवाने वाले लोक निर्माण विभाग, सेतु निगम व राजकीय निर्माण निगम के कार्मिकों के आश्रितों को उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सोमवार को नियुक्ति पत्र वितरित किये। उन्होंने कहा कि विभाग में मृतक आश्रितों को शैक्षिक योग्यता के आधार पर नौकरी देने का प्रविधान किया जाएगा। मृतक आश्रितों को नौकरी व अन्य देयों आदि के भुगतान के लिए लोक निर्माण मुख्यालय पर सिंगल विंडो सिस्टम स्थापित किया जाएगा। मुख्य अभियंता (मुख्यालय-2) इसके नोडल अफसर होंगे। सिंगल विंडो व्यवस्था सेतु निगम व निर्माण निगम में भी विकसित की जाएगी। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को मृतक आश्रितों के देयों का भुगतान 15 दिन में करने का निर्देश दिया।

लखनऊ स्थित लोक निर्माण मुख्यालय के विश्वेश्वरैया हाल में आयोजित नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम में कोविड व नान-कोविड अन्य कारणों से मृत 711 अधिकारियों, कर्मचारियों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके परिवारीजन के प्रति संवेदना व्यक्त की गई। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने 25 मृतक आश्रितों को नियुक्ति पत्र वितरित किये। उन्होने कहा कि सभी आश्रितों को विश्वास दिलाया कि सिंगल विंडो सिस्टम के माध्यम से सभी औपचारिकताएं जल्दी से जल्दी पूरी कराते हुए सभी मृतक आश्रितों को नौकरी व देयों का भुगतान कराया जाएगा।

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सेवानिवृत्त होने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों के देयों आदि के भुगतान के लिए भी सिंगल विंडो सिस्टम कार्य करेगा। इसके लिए लोक निर्माण विभाग में मुख्य अभियंता (मुख्यालज-2) विभागाध्यक्ष के माध्यम से समस्याओं का त्वरित निदान कराएंगे। राजकीय निर्माण निगम में सिंगल विंडो सिस्टम के नोडल अफसर एजीएम (कार्मिक) होंगे और सेतु निगम में इसके प्रभारी प्रोजेक्ट मैनेजर देवेंद्र वर्मा होंगे। कार्यक्रम को राज्यमंत्री लोक निर्माण विभाग चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय, विभाग के प्रमुख सचिव नितिन रमेश गोकर्ण, विभागाध्यक्ष पीके सक्सेना ने भी संबोधित किया।