लखनऊ, जेएनएन। देश में जानलेवा कोरोना वायरस के संक्रमण के दौरान भी दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तब्लीगी जमात का आयोजन करने वाले मौलाना साद के साथ अब उसके नजदीकी भी पुलिस की रडार पर हैं। साद के खिलाफ दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने गैर इरादतन हत्या की धारा भी जोड़ दी है। इसके बाद अब सहारनपुर में उसके ससुराल पक्ष के चार लोगों के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है।

मौलाना साद का क्वारंटाइन खत्म हो गया है। अब उसकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जाएगा। इसके साथ ही उसके नजदीकी रिश्तेदार भी अंदर जाएंगे। सहारनपुर में तब्लीगी जमात के मुखिया मौलाना साद के ससुराल पक्ष से जुड़े चार लोगों पर महामारी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। इन पर सभी पर आरोप है कि कोरोना संक्रमण के संदेह में सैंपल देने के बाद भी इनकी गतिविधियां पूर्व की तरह जारी रहीं। इससे जिले में कोरोना वायरस के प्रसार को गति मिली। इन्होंने अपनी ट्रैवल हिस्ट्री छिपाई। अब साद के ससुराल पक्ष के चार लोगों में से दो की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आ गई है।

सहारनपुर के जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने इन दोनों के संपर्क में आए लोगों को भी क्वॉरंटीन कर इनकी सैंपलिंग शुरू कर दी है। कोरोना संक्रमण की चपेट में आए दोनों युवकों के नाम साजिद और राशिद हैं। यहमौलाना साद के ससुर मौलाना सलमान के समधी के छोटे भाई हैं। फिलहाल दोनों को आइसोलेशन वॉर्ड में रखकर इलाज किया जा रहा है।

मौलाना साद के इन दोनों रिश्तेदारों के अलावा दो अन्य रिश्तेदारों अर्थात चार लोगों के खिलाफ दारोगा बिजेंद्र की ओर से मुकदमा दर्ज कराया गया है। कोरोना पॉजिटिव लोगों के एक करीबी मौलवी को भी क्वारंटाइन किया। शुरुआती जांच में मौलाना साद के रिश्तेदारों ने अपनी ट्रैवल हिस्ट्री छिपाने की कोशिश की थी। पुलिस ने जब इनके सीडीआर (कॉल डिटेल्स रिकॉर्ड) के आधार पर इनसे पूछताछ की तो इन्होंने निजामुद्दीन के एक होटल में ठहरने की बात स्वीकार की। यह दोनों लॉकडाउन की घोषणा से पहले सहारनपुर लौटे थे।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने बताया कि जबसे पुलिस को जानकारी मिली है कि मौलाना साद की सहारनपुर में ससुराल है, तभी से उनके रिश्तेदारों से बातचीत की जा रही थी। ससुराल पक्ष के दो रिश्तेदारों ने फ्रांस से लौटने की बात तो बताई लेकिन मरकज जाने की बात छिपाई। बाद में इन्होंने बताया कि वह निजामुद्दीन मरकज के नजदीक किसी होटल में रुके थे। उसके बाद उनका सैंपल लिया गया मगर वह अपनी गतिविधियां पहले की तरह जारी रखे हुए थे।

तबलीगी जमात के प्रमुख मौलाना साद की ससुराल सहारनपुर कोतवाली मंडी क्षेत्र के दीनानाथ बाजार स्थित मुहल्ला मुफ्ती में है। दोनों युवक भी यहीं पर रहते हैं। मौलाना साद के ससुराल पक्ष से रिश्तेदारी में आते हैं। दोनों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पुलिस प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पूरे इलाके को सैनिटाइज किया है और हॉटस्पॉट घोषित कर सील कर दिया है। 

Edited By: Dharmendra Pandey