लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध को हिंसक और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों पर सीएम योगी आदित्यनाथ बेहद खफा है। उन्होंने दो-टूक कह दिया है कि हम प्रदेश में दंगाइयों को छूट नहीं देंगे। सरकार से जो जैसा बोलेगा, वैसा परिणाम पाएगा। सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को लखनऊ में एक टीवी चैनल के कार्यक्रम में सीएए के विरोध के तरीके पर आपत्ति भी जताई। इसके साथ ही उन्होंने राम मंदिर के मुद्दे पर अपनी राय भी रखी।

नागरिकता संशोधन कानून पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में इस समय धारा 144 लागू है, इसके बाद भी लोग इसका उल्लंघन करने में लगे हैं। इसका विरोध ऐसे लोग भी कर रहे हैं जिनको सीएए का ज्ञान भी नहीं है। यह लोग जहां मन कर रहा है, वहीं पर प्रदर्शन तथा धरना कर रहे हैं। इतना ही नहीं विरोध प्रदर्शन किसी भी शह पर हिंसक भी हो रहे हैं। सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के साथ लोगों की जान भी ली जा रही है। अब ऐसे में हमारी सरकार हाथ पर हाथ धर कर नहीं बैठ सकती है। हम दंगाइयों को किसी भी कीमत पर छूट नहीं देंगे। सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों पर जुर्माना वसूलने पर उन्होंने कहा कि पब्लिक प्रॉपर्टी में मेरे घर का पैसा नहीं लगा। हमारी सरकार प्रदेश की सत्ता में है, इसी कारण इसकी सुरक्षा हमारी जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि हमारी किसी भी योजना या विचार का विरोध अगर लोकतांत्रिक तरीके से हो रहा है तो हम उसको मानते हैं। अगर किसी को भी धरना या प्रदर्शन करना है तो अनुमति लें। इसके बाद आपको धरना प्रदर्शन करना है तो करें, लेकिन लोगों के आमजन के जीवन को बाधित नहीं कर सकते। आप उपद्रव करके रहना चाहते हैं तो हम वही करेंगे, जो सही होगा।

देश विरोधी बयान देने वालों को भी योगी आदित्यनाथ से सख्त चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि जो जैसा बोलेगा, वह वैसे ही परिणाम पाएगा। ओवैसी के बयान पर सीएम ने कहा, हमारे देश ने हर प्रताडि़त कौम को शरण दी है। उनको भय है कि उनकी दुकानें बंद होने वाली हैं। 

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमें देश को आगे बढ़ाना है तो हर व्यक्ति को संरक्षक की जिम्मेदारी निभानी चाहिए। मैंने सबसे ज्यादा पैसा बिना भेदभाव के सीएम राहत कोष से दिया है। सीएम राहत कोष का जो पैसा हमने दिया है, उसे बिना भेदभाव के दिया है। राम मंदिर पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लोग कहते थे राम मंदिर पर फैसले के दिन खून की नदियां बहेंगी। हमको तो भरोसा था कि एक मच्छर नहीं मरेगा। उस दिन यूपी का सबसे शांत दिन था। अनुच्छेद 370 हटने के बाद देख लीजिए कि एक भी निर्दोष व्यक्ति की जान नहीं गई। राम मंदिर का निर्माण पर उन्होंने कहा कि तीन महीने के अंदर काम शुरू होने जाएगा। लोग अभी से इसके लिए पैसे भेजने लगे हैं। 

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर संविधान पर सवाल वही उठा रहे हैं जो विभाजन के लिए जिम्मेदार हैं। हमारी सरकार तो प्रदेश के विकास के काम में लगे हैं। हमने चार करोड़ लोगों के घर बिजली पहुंचाई। आठ करोड़ लोगों को रसोई गैस पहुंचाई गई। 60 करोड़ लोगों को आयुष्मान का फायदा दिया। यह सब काम हमने बिना धर्म के किया। वोट बैंक वालों ने कानून को तोडऩा शुरू किया है।

देशद्रोहियों खाद पानी नहीं लेने देंगे

प्रियंका गांधी और अखिलेश यादव के सीएए पर विरोध और बयानों पर सीएम योगी ने कहा कि इन लोगों ने अब तक देश को खूब लूटा है। हमें देश का पैसा देश के विकास में लगाना है। सरकार का डूब रहा पैसा सरकारी खजाने में लाना है। हम इन्हें ऐसा कोई काम नहीं करने देंगे, जो देशद्रोहियों को खाद पानी का काम करे।

विपक्ष बेरोजगार

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विपक्ष के पास कोई काम नहीं है। वह बेरोजगार है। उसे पता है तीन तलाक की सच्चाई लोगों तक पहुंच गई तो इनका कुछ नहीं हो पाएगा। लखनऊ में मैंने तलाकशुदा महिलाओं का सम्मेलन बुलाया था। उसमें मैंने उनकी तकलीफों को जाना। हमने उसमें महिलाओं की तकलीफों के बारे में जाना।

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस