लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के पहले कार्यकाल में इलाहाबाद तथा फैजाबाद का नाम बदलने के बाद अब बारी आजमगढ़ की है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को इसका संकेत भी दे दिया है। आजमगढ़ में उन्होंने दो जनसभा को भी संबोधित किया।

योगी आदित्यनाथ सरकार के दूसरे कार्यकाल में आजमगढ़ का नाम आर्यमगढ़ हो सकता है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजमगढ़ में रविवार को आजमगढ़ लोकसभा उप चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ के पक्ष में दो चुनाव सभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने जनसभा में कहा कि आजमगढ़ को आर्यमगढ़ बनाने की प्रक्रिया के साथ जुडऩे का अवसर आपके पास आया है। चूकिएगा मत। आजमगढ़ को आतंकगढ़ मन बनने दीजिएगा। ईश्वर ने आपको अवसर दिया है।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे तो आजमगढ़ और पूर्वी उत्तर प्रदेश के विकास की रीढ़ बनने वाला है। यह केवल आवागमन का माध्यम नहीं है, बल्कि यहां के विकास की धुरी बनने वाला है। आजमगढ़ में एयरपोर्ट नहीं था, हम लोगों ने एयरपोर्ट दिया है। यहां महाराजा सुहेलदेव जी के नाम पर विश्वविद्यालय का निर्माण हो रहा है, जिसका शिलान्यास गृह मंत्री अमित शाह ने किया था। विश्वविद्यालय बनने से विकास की ढेर सारी संभावनाएं सृजित होंगी।

मुख्यमंत्री ने आजमगढ़ के चक्रपानपुर व बिलरियागंज क्षेत्र में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि यहां की राष्ट्रवादी जनता सुशासन व विकास पर अपने विश्वास की मुहर लगाते हुए दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ को भारी मतों से विजयी बनाने जा रही है। उन्होंने कहा कि यहां से निरहुआ जीतेगा तो आजमगढ़ का भी विकास होगा हमने गोरखपुर से सीट छोड़ी तो एक कलाकार को चुनाव लड़वाया। वह जीते भी और गोरखपुर का विकास भी हुआ। निरहुआ जीतेगा तो यहां का भी विकास होगा।

Edited By: Dharmendra Pandey