लखनऊ, जेएनएन। Australia High Commissioner UP Visit: भारत और आस्‍ट्रेलिया के संबंधों को नया आयाम देने के लिए आस्‍ट्रेलिया के हाई कमिश्‍नर बैरी ओ फैरेल इन दिनों उत्तर प्रदेश के दौरे पर हैं। इस दौरान वह ऐतिहासिक और पौराणिक स्‍थलों के माध्‍यम से लखनऊ के बारे में भी वह अवगत हुए। मशहूर भूल-भुलैया के आर्किटेक्टचर को देखकर वह बहुत ही खुश हुए। उन्‍होंने भ्रमण के बाद अपने ट्वीटर हैंडल पर फोटोज पोस्‍ट कर अपनी खुशी जाह‍िर की। इसके साथ ही उन्‍होंने लिखा- ' लखनऊ में बड़ा इमामबाड़ा की खूबसूरती से संरक्षित स्थापत्य भव्यता का अनुभव जरूर करें। यदि आप शहर में हैं तो यात्रा अवश्य करें। अतुल्य भारत। '' 

विद्यार्थियों को डुअल डिग्री कोर्स को तोहफा: शुक्रवार को आस्ट्रेलिया के उच्चायुक्त बैरी ओ फैरल ने उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा से विधान भवन स्थित उनके कार्यालय में मुलाकात की और इस प्रस्ताव पर अपनी सहमति जताई। आस्ट्रेलिया सरकार के समन्वय से जॉब फेयर, वेबीनार भी आयोजित किए जाएंगे। यही नहीं आस्ट्रेलिया टेक्सटाइल, आइटी व इलेक्ट्रानिक्स के क्षेत्र में भी पूरी मदद करने को तैयार है। बता दें, बीती 25 फरवरी को यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ से उनके सरकार आवास में आस्‍ट्रेलिया के हाई कमिश्‍नर बैरी ओ फैरेल ने मुलाकात की थी।

24 को कियापीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र का दौरा: बता दें, बीती 24 फरवरी को आस्‍ट्रेलिया के हाई कमिश्‍नर बैरी ओ फैरेल ने पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का दौरा किया। दौरे में वह राजनीतिक, शैक्षिणिक और कारोबारी संभावनाओं और गतिविधियों के बारे में भी अवगत हुए। बनारसी टेक्‍सटाइल के बारे में जानकारी करने हथकरघा उद्योग को देखने पहुंचे। इस बाबत उन्‍होंने बताया कि -'वाराणसी टेक्‍सटाइल डिजाइनिंग का प्राचीन इतिहास रहा है। बनारस के एक गांव में प्रसिद्ध रेशम बुनाई प्रौद्योगिकी को पहली बार देखा।' 

यह भी पढ़ें: यूपी में खुलेंगे आस्ट्रेलिया के छह विश्वविद्यालयों के कैंपस, आइटी व इलेक्ट्रानिक्स के क्षेत्र में भी देगा मदद