Move to Jagran APP

Unnao Bus Accident: अखि‍लेश ने कहा- 18 लोगों की मौत का कारण बीजेपी सरकार की लापरवाही, पूछे छह सवाल

Unnao Bus Accident लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर हुए हादसे में 18 लोगों की मौत हो गई जबक‍ि 18 लोग घायल हैं। इस हादसे को लेकर सपा प्रमुख अखि‍लेश यादव ने बीजेपी सरकार को घेरा है। अखि‍लेश ने हादसे में 18 लोगों की मौत का कारण बीजेपी सरकार की लापरवाही बताया है। इसके साथ ही छह सवाल पूछते हुुए सरकार से स‍िलस‍िलेवार इसके जवाब मांगे हैं।

By Vinay Saxena Edited By: Vinay Saxena Wed, 10 Jul 2024 11:16 AM (IST)
सपा प्रमुख अखि‍लेश यादव, सीएम योगी आद‍ित्‍यनाथ।- फाइल फोटो

ड‍िजिटल डेस्‍क, नई द‍िल्ली। समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर हुए हादसे में 18 लोगों की मौत का कारण बीजेपी सरकार की लापरवाही बताया है। इसके साथ ही छह सवाल उठाते हुए भाजपा सरकार से इन प्रश्नों का जवाब मांगा है।

अखि‍लेश ने कहा क‍ि ये जांच का व‍िषय है क‍ि, एक्सप्रेसवे पर विशेष पार्किंग जोन की व्यवस्था होते हुए भी, कोई वाहन बीच रास्ते में क्यों खड़ा हुआ था। सीसीटीवी के लगे रहने के बावजूद खड़े वाहन की निगरानी में चूक कैसे हुई। क्या सीसीटीवी काम नहीं कर रहे थे। अखि‍लेश ने पूछा, हाई-वे पुलिस कहां थी, क्या नियमित पेट्रोलिंग नहीं हो रही थी।

'हादसे के बाद हाईवे एम्बुलेंस सर्विस कितनी देर में पहुंची?'

सपा प्रमुख ने सवाल पूछा क‍ि इस हादसे के बाद हाईवे एम्बुलेंस सर्विस कितनी देर में पहुंची और हताहतों के संबंध में उसकी भूमिका क्या रही। यदि गाड़ी खराब होने के कारण खड़ी थी, तो उसे टोइंग सहायता क्यों नहीं पहुंची। एक्सप्रेसवे पर प्रतिदिन करोड़ों रुपए लिए जाते हैं, वो पैसा एक्सप्रेसवे के व्यवस्थापन और प्रबंधन में न लग कर, क्या कहीं और जा रहा है।

हादसे में 18 लोगों की मौत

उन्नाव में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर बेहटा मुजावर क्षेत्र के गढ़ा गांव के पास बुधवार तड़के बड़ा हादसा हुआ। स्लीपर बस दूध टैंकर में पीछे से टकरा गई। हादसे में एक बच्चे समेत 18 लोगों की मौत हो गई। 19 लोग घायल हो गए। हादसे की वजह ड्राइवर को झपकी आना बताया जा रहा है।

डीएम ने RTO को द‍िए न‍िर्देश, दर्ज की जाएगी FIR

बांगरमऊ सीओ अरविंद चौरसिया ने कहा, "यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है, बिहार के शिवहर जिले से 'नमस्ते बिहार' नामक बस चलती है, इसमें काफी यात्री सवार थे। इसकी दूध के कंटेनर से टक्कर हो गई, जिसके कारण 18 लोगों की मौत हो गई, 19 लोग घायल हैं। अन्य 22 सुरक्षित लोगों को उनके गंतव्य के लिए अन्य बस से रवाना किया जा रहा है। डीएम ने मामले पर संज्ञान लेते हुए आरटीओ को निर्देश दिए हैं, मामले में एफआईआर कराई जा रही है।"

यह भी पढ़ें: लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर भीषण हादसे में 18 लोगों की मौत, पीएम मोदी-राष्ट्रपति मुर्मु ने जताया दुख; मुआवजे का एलान