लखनऊ (जेएनएन)। सपा के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव अब संगठन में अपनी पसंद के लोगों को मौका दे रहे हैं। वह संगठन से धीरे-धीरे मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के करीबियों को बाहर कर रहे हैं और अपने भरोसे के लोगों को कमान सौंप रहे हैं। यह अलग बात है कि हर फैसले के पीछे वह सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव का नाम जरूर ले रहे हैं। गुरुवार को शिवपाल ने सपा कार्यालय सचिव का दायित्व वीरेन्द्र सिंह और समाजवादी व्यापार सभा के प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी सुरेन्द्र मोहन अग्रवाल को सौंपी।

तीन तलाक : लॉ कमीशन के सवालनामे का बायकॉट करें मुसलमान : उलेमा
सपा में कलह के बाद फेरबदल जारी है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अब तक जो भी बदलाव किये उसमें उनके ज्यादातर फैसले पलटने पड़े लेकिन प्रदेश अध्यक्ष के रूप में शिवपाल सिंह यादव लगातार व्यवस्था बदलने में जुटे हैं। सपा प्रदेश कार्यालय पर एसआरएस यादव बतौर सचिव सब कुछ संभालते थे। वह इस विवाद के दौरान किनारे हो गये। शिवपाल ने गुरुवार को वीरेन्द्र सिंह को प्रदेश कार्यालय सचिव मनोनीत किया। बताया कि वीरेन्द्र सिंह लंबे समय तक मुलायम सिंह यादव के राजनीतिक सलाहकार रहे हैं। मुलायम के मुख्यमंत्री रहते समय वह विशेष कार्याधिकारी की भी जिम्मेदारी संभाल चुके हैं।

अब उत्तर प्रदेश में चारों दिशाओं से निकलेगी भाजपा की परिवर्तन यात्रा

शिवपाल ने व्यापार सभा की कमान भी अपने खास को दी है। समाजवादी व्यापार सभा के प्रदेश अध्यक्ष सुरेन्द्र मोहन अग्रवाल बनाये गए हैं। अग्रवाल उत्तर प्रदेश राज्य वाणिज्य कर सलाहकार समिति के अध्यक्ष के साथ-साथ उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के भी अध्यक्ष हैं। इसके अलावा जफर मसूद किछौछवी को विशेष आमंत्रित सदस्य, डॉ. सुरभि शुक्ला को प्रदेश सचिव और सुधीर सिंह को प्रदेश कार्यकारिणी का सदस्य मनोनीत किया है।

बोरे में 11 करोड़ रुपये लेकर बैंक पहुंचा आगरा का कारोबारी

Posted By: Ashish Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस