Move to Jagran APP

Lalitpur: दुष्कर्म में समझौता नहीं करने पर दी धमकी, पिता फंदे पर झूला, आरोपी पर FIR, जीते जी नहीं होने दिया बेटी की अस्मत का सौदा

बेटी से दुष्कर्म में राजीनामा न करने पर पिता को आत्महत्या के लिए प्रेरित वालों पर मुकदमा। मजदूर ने चार दिन पूर्व फन्दे पर झूलकर दी थी जान। आरोप हैं कि बेटी के साथ अहमदाबाद में हुए दुष्कर्म में राजीनामा के लिए बनाया जा रहा दबाव मजदूर पिता सह नहीं पाया और इसी प्रताड़ना के चलते उसने अपनी जान दे दी।

By Jagran News Edited By: Abhishek Saxena Sat, 06 Apr 2024 11:36 PM (IST)
बेटी से दुष्कर्म में राजीनामा न करने पर पिता को आत्महत्या के लिए प्रेरित वालों पर मुकदमा

ललितपुर ब्यूरो। अहमदाबाद में पत्नी एवं बच्ची के साथ मजदूरी के लिए कोतवाली क्षेत्र के मजदूर की मौत के मामले में सदर कोतवाली पुलिस ने आत्महत्या को उकसाने के आरोप में केस दर्ज करके जांच शुरू की है। 

कोतवाली क्षेत्र के निकटवर्ती गांव में रहने वाली महिला ने कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर बताया कि उसका मजदूर पेशा व्यक्ति था। वर्ष 2021 में वह अपने पति एवं पुत्री के साथ अहमदाबाद के ग्राम सातेज में मजदूरी करने के लिए गए थे। जब वह अपने पति के साथ मजदूरी पर थी, तभी घर में अकेली मौजूद उसकी 15 वर्षीय पुत्री के साथ गांव में रहने वाले संजय सिंह नाम के युवक ने पुत्री के साथ बुरा काम किया था।

दो फरवरी को उसके पति ने संजय के खिलाफ थाना कलोल में एफआइआर पंजीकृत की थी। जिस पर पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था, जिसका मुकदमा सोलावृज कोर्ट में चल रहा है। जिसमें उसके पति एवं पुत्री पेशी पर जाते रहते थे। इस दौरान संजय के परिजनों ने उस प्रकरण में उसके पति पर राजीनामा करने के लिए अनुचित दबाव बनाया तथा पेशी पर आने पर उसके पति एवं पुत्री को जान से खत्म करने की धमकी दी गई थी। इसके बाद आरोपी उसके पति के मोबाइल पर लगातार राजीनामा करने के लिए दबाव बना रहे थे तथा धमका रहे थे।

ये भी पढ़ेंः NIA Raids: एनआइए ने बलिया में नक्सलियों के 11 ठिकानों पर मारा छापा, मोबाइल फोन के साथ जब्त किए आपत्तिजनक दस्तावेज

नौ अप्रैल को आया पति के मोबाइल पर फोन

विगत दो अप्रैल को सुबह नौ बजे उसके पति के मोबाइल पर फिर फोन आया और उस प्रकरण में राजीनामा न करने पर अनुचित रूप से प्रताड़ित किया गया, उसे डराया व धमकाया गया और उसे आत्महत्या करने के लिए उकसाया गया। जिससे उसके पति मानसिक रूप से परेशानी में आ गए और कमरे में जाकर आत्महत्या कर ली।  शव का कोतवाली पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया था। सदर कोतवाली पुलिस ने महिला की तहरीर के आधार पर आरोपी संजय के परिवारीजन एवं अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस पंजीकृत कर जांच शुरू कर दी है।

ये भी पढ़ेंः Double Murder Case: यूपी में एक सिक्का पाने के लिए डबल मर्डर, फूफा-भतीजे की हत्या के बाद लाश का किया वो हाल कि कांप गई सभी की रूह

जीते जी नहीं किया बटिया की अस्मत का सौदा

दो अप्रैल की सुबह मजदूर अपनी पत्नी के साथ घर में था, पुत्री बकरियां चराने गई थी, इसी दौरान उसके पास अहमदाबाद से फोन आया था, आरोप हैं कि फोन करने वालों ने फिर उस पर मुकदमे में राजीनामा को दबाव बनाया था, यही नहीं इस दौरान उसे प्रलोभन भी दिया गया था, लेकिन मजदूर बाप ने अपनी पुत्री की अस्मत का सौदा करने से साफ इंकार कर दिया था, जिसके बाद उसे तरह-तरह की धमकियां दी गई थीं, जिसे सुनकर उसने अपनी पत्नी से चिल्लाते हुए कहा कि वह अपनी जान दे देगा, लेकिन पुत्री के साथ हरकत करने वाले से राजीनामा नहीं करेगा और उसने कमरे में रखे बक्से से साड़ी निकाली और पंखे पर फन्दा बनाकर लटक गया था।