लखीमपुर: नीमगांव थाना क्षेत्र में अनुसूचित जाति की छात्रा संग हुई वारदात अब कोई आम हत्या या दुष्कर्म की वारदात नहीं बल्कि लव जिहाद का मामला भी हो सकता है। इस नए एंगिल पर भी पुलिस सरगर्मी से काम करने की प्रक्रिया शुरू कर चुकी है। पुलिस ये पता लगाने में जुट गई है कि आखिर बिटिया को इस बेरहमी से मारने के पीछे उसकी मंशा कहीं लव जिहाद की तो नहीं रही। सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ की इस वारदात में की गई तल्ख टिप्प्णी के बाद अब पुलिस भी पूरी तरह चौकस हो चुकी है। पुलिस अब इस वारदात में जुटाए जाने वाले सारे सुबूत को साइंटिफिक प्रूफ की कसौटी पर कसने के बाद ही उसे अंतिम रूप दे रही है। पुलिस को शक है कि बिटिया को बेरहमी से मारने वाला ये आरोपित दूसरी जाति का है इसलिए उससे कुछ ऐसा कराने का दबाव भी बना सकता है जिसके लिए वह राजी नहीं हुई हो सकती है और उसने अपनी जान तक की बाजी लगा दी। पुलिस का दावा है कि जल्दी ही इस एंगिल पर जांच का काम पूरा कर लिया जाएगा। इसके लिए आरोपित के मोबाइल की पूरी जन्म कुंडली को बारीकी से खंगालना जरूरी होगा। उसकी मनोदशा से लेकर उसकी रूचि, उसके मिलने वाले दायरों की भी पड़ताल और पूछताछ गहराई से की जाएगी। एसपी सत्येंद्र कुमार कहते हैं कि इस नए एंगिल पर भी पुलिस ने बेहद गंभीरता से काम करना शुरू कर दिया है। जल्दी ही परिणाम सामने आएंगे। एक सवाल के जवाब में एसपी ने कहा कि इस वारदात में एक ही व्यक्ति अब तक की तफ्तीश में शामिल पाया जा रहा है जिसके खिलाफ अब तक तमाम पुख्ता सुबूत मिले हैं। उसे जेल भेज दिया गया है। अगर किसी अन्य के शामिल होने की जानकारी सामने आई तो उसे भी गिरफ्तार किया जाएगा। सांसद रेखा वर्मा ने सौंपा पांच लाख का चेक नीमगांव मामले में मुख्यमंत्री सहायता कोष से गुरुवार को पीड़ित परिवार को पांच लाख का चेक सौपने के लिए धौरहरा की सांसद रेखा वर्मा खुद उसके घर पहुंची। सांसद ने बिटिया के माता-पिता से लंबी बात की और उनको ढांढस बंधाते हुए कहा कि सरकार उनके साथ खड़ी है और मुख्यमंत्री भी इस वारदात से बेहद दुखी हैं। सांसद ने कहा कि इस वारदात के जिम्मेदार पर इतनी सख्त कार्रवाई की जाएगी कि दोबारा कोई ऐसा दुस्साहस न करे।

ढांढस बंधाने गांव पहुंची आइजी लक्ष्मी सिंह लखनऊ रेंज की आइजी लक्ष्मी सिंह गुरुवार को नीमगांव इलाके उस गांव में पहुंची जहां बिटिया से दरिदगी हुई थी। मौके का निरीक्षण करने के बाद आईजी ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की और कहा कि शासन इस वारदात पर बहुत सख्त कार्रवाई करने जा रहा है। आरोपित पर तमाम संगीन धाराओं के अलावा रासुका के तहत भी कार्रवाई की जा रही है। इस वारदात में लिप्त मुख्य आरोपित जेल में है और उस पर कानून का बेहद कड़ा शिकंजा कसने जा रहा है।

Edited By: Jagran