Move to Jagran APP

यूपी के इस ज‍िले में आंधी-तूफान के बाद कई घंटों के ल‍ि‍ए बिजली गुल, सड़क पर गुजरी विधायक की रात

UP News तूफान थमने के बाद बाहर निकले लोगों ने बिजली का सूरते हाल देखा तो तुरंत ही सदर विधायक योगेश वर्मा से मिले। विधायक खुद ही लोगों की भीड़ के साथ सड़क पर आए और बिजली विभाग के अफसरों को फोन घुमाना शुरू कर दिया। देखते ही देखते बिजली वालों की टीम वाइडी कालेज के गेट पर पहुंच गई।

By Dharmesh Kumar Shukla Edited By: Vinay Saxena Sat, 01 Jun 2024 03:20 PM (IST)
बिजली लाइन को रस्से से खींचते सदर विधायक योगेश वर्मा (नीली टी शर्ट में)- जागरण

जागरण संवाददाता, लखीमपुर। यूपी के लखीमपुर में बीते गुरुवार की रात आए तेज आंधी-तूफान के बाद शहर के कई इलाकों की बिजली गुल हो गई। आपदा का कहर शहर के मोहल्ला राजगढ़ पर भी आया और यहां 11000 की लाइन पर कई जगह पेड़ गिरने से राजगढ़, सीतापुर रोड, बड़खेरवा समेत कई मोहल्लों की बिजली गुल हो गई।

तूफान थमने के बाद बाहर निकले लोगों ने बिजली का सूरते हाल देखा तो तुरंत ही सदर विधायक योगेश वर्मा से मिले। विधायक खुद ही लोगों की भीड़ के साथ सड़क पर आए और बिजली विभाग के अफसरों को फोन घुमाना शुरू कर दिया। देखते ही देखते बिजली वालों की टीम वाइडी कालेज के गेट पर पहुंच गई। खुद विधायक भी टीम के साथ लग गए। पूरी रात काम चला और विधायक भी बिजली वालों और मोहल्ले वालों के साथ मिलकर तब तक कारसेवा की जब तक ये तय नहीं हो गया कि बिजली अब कुछ देर में मिल जाएगी।

इस बीच बिजली अफसर भी बीच-बीच में आकर कार सेवा कर रहे विधायक का हाल देखने भी आते रहे। इलाकाई पुलिस वाले भी हाजिरी बजाते रहे। मेहनतकश बिजली विभाग की टीम भी बिना थके ये फाल्ट सही करने में जुटी रही। अल सुबह करीब पांच बजे ये कहकर विधायक योगेश वर्मा चले गए कि अब बस कुछ देर का काम बाकी है और सुबह ठीक सात बजे विधायक जी के मुहल्ले का फीडर चालू हो गया।

विधायक के साथ रात भर कार सेवा करने वाले प्रमोद दीक्षित, भानू प्रताप, पूर्व सभासद अंशुमान माथुर, प्रवीण सक्सेना, टानी राजावत, संदीप कश्यप आदि लोगों ने विधायक का आभार जताया।

बिजली की राह तकते रहे गए कई मोहल्ले

वाइडी कालेज के पास खराब हुई बिजली को बनवाने के लिए जब लोगों ने खुद ही आधी रात को सदर विधायक को खड़े देखा तो उनको लगा कि उनके घरों में भी बिजली आ जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

राजगढ़ की बिजली तो सुबह सात बजे आ गई लेकिन ईदगाह, जयदेवनगर, पंजाबी कालोनी, बड़खेरवा, बेहजम रोड, ओवरब्रिज के नीचे का पूरा इलाका शुक्रवार शाम सात बजे तक बिजली को तरसता रहा। बताया ये गया कि पहले पालिका कन्या पाठशाला ईदगाह और आबकारी गोदाम के पास गिरे पेड़ हटवाए तब काम होगा और ये काम शुक्रवार की शाम हो पाया।

यह भी पढ़ें: Road Accident : लखीमपुर में बस की टक्कर से मैजिक सवार 6 यात्रियों की मौत, पीलीभीत-बस्ती हाईवे पर हुई दुर्घटना

यह भी पढ़ें: Online Challan : महंगा पड़ गया बीच चौराहे पर स्टंट कर रील बनाना, यूपी पुलिस ने सिखा दिया सबक