कानपुर, जेएनएन। सिविल सेवा परीक्षा 2019 का परिणाम संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने जारी कर दिया है। सफल परीक्षार्थियों के घरों में जश्न का माहौल शुरू हो गया है। इन्हीं में कानपुर के आवास विकास कल्याणपुर में रहने वाली गुंजन सिंह ने ऑल इंडिया 16वी रैंक हासिल करके नाम रोशन किया है। उनकी सफलता से परिवार में खुशी का माहौल है और बधाई देने वालों का तांता लग गया है। गुंजन भी अपनी सफलता से बेहद खुश हैं और श्रेय अपने घरवालों को दिया है।

गुंजन ने बताया कि इंजीनिरिंग की पढ़ाई के दौरान आइएएस बनने की प्रेरणा मिली। जब वह आइआइटी रूड़की से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बीटेक कर रही तब वह सहपाठियों के साथ ग्रामीण बच्चों को पढ़ाने व उन्हें तकनीकी से रूबरू कराने जाया करती थीं। शनिवार व रविवार को भंगेरी गांव जाकर बच्चों को पढ़ाना व ग्रामीणों को समाजिक सरोकारों के प्रति जागरूक करना इतना अच्छा लगा कि बीटेक करने के दौरान आइएएस बनने का निर्णय ले लिया।

गुंजन ने बताया कि आइआइटी के छात्र छात्राओं के साथ मिलकर वह गांव में नुक्कड़ नाटक व जागरूकता कार्यक्रम करती हैं। उन्हें लगता कि अगर सिस्टम के तहत पठन पाठन व गांव की साफ सफाई पर काम किया जाए तो परिणाम दूरगामी होंगे। बीटेक के बाद उन्होंने एक निजी कंपनी में साॅफ्वेयर डेवलपर्स के पद पर काम किया लेकिन वहां पर मन नहीं लगा। काम के साथ साथ वह यूपीएससी की तैयारी करने लगीं।

बीएसएनएल में एसडीओ मामा उपेंद्र कटियार व एसबीआइ में एजीएम के पद पर कार्यरत मामी प्रीति कटियार ने उनका मार्गदर्शन किया। जल निगम में सहायक अभियंता के पद पर कार्यरत पिता बाबूराम वर्मा व मां राजकीय महिला इंटर काॅलेज मेेें प्रवक्ता मां मनोरमा कटियार का सहयोग मिला और उन्होंने अपना सपना पूरा किया। गुंजन ने बताया कि वह जरूरतमंदों के लिए काम करेंगी और गांव की खुशहाली के लिए परियोजनाएं बनाकर उन्हें अमली जामा पहनाना उनकी प्राथमिकता रहेगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस