कानपुर, जेएनएन। छत्रपति शाहू जी महाराज विवि (सीएसजेएमयू) में पूर्व विद्यार्थी सम्मेलन में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को कॉलेज के दिनों की यादें ताजा हो गईं। कहा, चाहे वह कॉलेज बंक करना हो, कैंटीन में बातें करना, छात्रावास में गुजारे पल या फिर देर रात तक पढऩा। किसी भी पूर्व छात्र को स्कूल-कॉलेजों में बिताया समय कभी नहीं भूलता।

छात्रों के बीच अकेली छात्रा थीं

उन्होंने कहा कि साल 1960 में स्नातक की पढ़ाई के लिए जब वह कॉलेज पहुंचीं तो एक हजार से अधिक छात्रों के बीच अकेली छात्रा थीं। इसी तरह जब उन्होंने एमएससी किया तब भी अकेली छात्रा के रूप में किया। वर्ष 1994 में गुजरात विद्यापीठ से जब एमएड किया, तब भी वह अकेले ही पढ़ीं और स्वर्ण पदक हासिल किया था।

गर्व की बात है विवि के पूर्व छात्र देश के सर्वोच्च पद पर

राज्यपाल ने कहा कि यह गर्व करने वाली बात है कि इस विवि के पूर्व छात्र देश के सर्वोच्च पद पर बैठे हैं। इससे विवि की गरिमा में चार-चांद लग गए। बोलीं कि सभागार में इतनी अधिक संख्या में पूर्व छात्रों को देख लग रहा है जैसे सभी कई ïवर्षों से बिछड़े थे। इनमें से तमाम ऐसे भी होंगे, जिन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ पढ़ाई की होगी। उनके साथ एक बार फिर उपस्थिति एक ऐतिहासिक क्षण है।

Edited By: Abhishek