कानपुर, जेएनएन। सीएसजेएमयू में बीटेक आइटी के छात्र मंकेश्वर को कक्षा में घुसकर पीटने व बम फोड़कर दहशत फैलाने पर दो छात्रों को महीने भर के लिए विभाग से बाहर कर दिया गया है। इनमें बीबीए छात्र सौरभ शुक्ला व बीसीए छात्र प्रिंस राघव शामिल हैं। विश्वविद्यालय प्रशासन ने प्रारंभिक जांच में इन छात्रों को दोषी पाया है।

विश्वविद्यालय प्रशासन उनके अभिभावकों को पत्र व फोन पर सूचना देकर बात करने के लिए बुलाएगा। उनसे बातचीत होने के बाद ही छात्रों को दोबारा प्रवेश मिल सकेगा। इसके अलावा बीटेक छात्र को पीटने की जांच करने के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने पांच सदस्यीय जांच समिति गठित कर दी है। इस जांच समिति में छात्र कल्याण अधिष्ठाता डॉ. अंशू यादव, चीफ प्रॉक्टर डॉ. नीरज सिंह, शिवाजी छात्रवास के वार्डन डॉ. आरएन कटियार, आइटी की विभागाध्यक्ष डॉ. राशि अग्रवाल, स्वर्ण जयंती छात्रवास के वार्डन डॉ. बीएस कटियार शामिल हैं।

समिति को अपनी रिपोर्ट 15 दिन के अंदर देने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं विश्वविद्यालय के द्वार पर धरना प्रदर्शन करने के लिए उकसाने वाले चार छात्रों को 15 दिन के लिए छात्रवास से निष्कासित कर दिया गया है। इनमें स्वर्ण शताब्दी छात्रवास के यथार्थ, अतुल कुमार, विमेश चौधरी व अलावा शिवाजी छात्रवास के ऋषभ तिवारी शामिल हैं।

छात्र को परेशान करने वाला छात्र निष्कासित

एक छात्र को लगातार परेशान करने वाले बीटेक केमिकल इंजीनियरिंग ब्रांच के एक छात्र को विभाग से निष्कासित कर दिया गया है। छात्र ने इसकी शिकायत विभागाध्यक्ष व चीफ प्रॉक्टर से की थी। छात्र की पूर्व में की गई शिकायत पर छात्र को चेतावनी दी गई थी लेकिन वह फिर भी नहीं माना।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप