इटावा, जेएनएन। Samajik Parivartan Yatra प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Yadav)  सामाजिक परिवर्तन यात्रा रथ के साथ बुधवार की रात को अपने विधान सभा क्षेत्र जसवंतनगर में अपने पुत्र आदित्य यादव के साथ पहुंचे। यहां पर उनका जोरदार स्वागत किया गया। ओवर ब्रिज के नीचे उनकी जनसभा हुई। अपने निर्धारित समय से करीब चार घंटा विलंब से वे जसवंतनगर पहुंचे। उन्होंने कहा कि कहा कि भगवान श्रीकृष्ण के आशीर्वाद से वे मथुरा से चले हैं। 2022 में अवश्य ही परिवर्तन होगा। रथयात्रा अयोध्या में समाप्त होगी वहां पर भी वे भगवान राम का आशीर्वाद लेंगे। समान विचारधारा वाले दलों के लिए अभी भी उनके दरवाजे खुले हुए हैं। समाजवादी पार्टी अब भी उनकी प्राथमिकता पर है। अन्य दलों से भी उनकी बातचीत चल रही है। समय आने पर पता चल जाएगा। हालांकि यह भी कहा कि हम किसी का इंतजार नहीं करेंगे और 2022 का चुनाव अवश्य लड़ेंगे और प्रदेश में सरकार बनाएंगे। अखिलेश यादव से बातचीत होने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले उनकी बात हुई है। हालांकि ब्यौरा नहीं बताया।

यह भी पढ़ें: अखिलेश यादव ने 300 यूनिट बिजली फ्री देने का किया वादा, बोले- बुंदेलखंड को मिला धोखा

शिवपाल यादव ने कहा कि भाजपा को हराने के लिए समान विचारधारा वाले दलों को गठबंधन के लिए एक मंच पर आना होगा। उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि जब से केंद्र व प्रदेश में सरकार बनी है कोई भी निर्णय सही नहीं हुआ है। यह झूठों की सरकार है, इन्होंने जो भी वायदा किया वह पूरा नहीं किया। सबसे पहले काला धन काला धन वापस लाने को कहा नहीं आया, 15 लाख रुपये खाते में नहीं आए, 100 दिन में भ्रष्टाचार खत्म करने का वादा किया था पूरा नहीं हुआ। आज हर वर्ग परेशान है, किसानों का तो बुरा हाल है। बिजली आने जाने का कोई समय नहीं है। किसान कुचले जा रहे हैं और उनको धमकाया जा रहा है। प्रदेश में कानून व्यवस्था का कोई राज नहीं है इसलिए सत्ता परिवर्तन के लिए सामाजिक परिवर्तन रथ यात्रा निकाली जा रही है। उनकी सरकार बनेगी तो प्रत्येक घर में एक को सरकारी नौकरी दी जाएगी। सबसे पहले किसानों और बेरोजगारों की सुनवाई होगी। 300 यूनिट बिजली मुफ्त दी जाएगी।

यह भी पढ़ें : BJP पर जमकर बरसे सपा मुखिया अखिलेश यादव, कहा - ईस्ट इंडिया कंपनी की तरह काम कर रही सरकार

जसवंतनगर के लोगों से उन्होंने अपील की कि उन्होंने हमेशा उनका साथ दिया है इस चुनाव में उनके वोट भी चाहिए और नोट भी चाहिए ताकि रथ यात्रा विजयी रथ बनकर ही रुके।

Edited By: Shaswat Gupta