कानपुर, जेएनएन। तकनीक हमारे जीवन का अहम अंग बनकर हमारी तथा घर की रक्षा में भी काफी कारगर है। कानपुर निवासी एक परिवार को अमेरिका से सीसीटीवी पर कानपुर में अपने घर की लाइव निगरानी काफी काम आ गई। घर में घुसे डकैतों की सूचना इन्होंने अपने पड़ोसी को दी, इसके बाद पड़ोसी ने चकेरी थाना को सूचना दी और भारी पुलिस बल ने एक डकैत को दबोच लिया।

कानपुर के चकेरी थाना क्षेत्र के श्याम नगर में ताला बंद मकान में वारदात के इरादे से तीन बदमाश घुसे। इनको शायद यह पता नहीं था कि मकान मालिक तो अमेरिका से अपने मकान की निगरानी कर रहा है। अमेरिका में जैसे ही इनको दिखा की बदमाश घर में घुस रहे हैं, इन्होंने पड़ोसी को फोन कर बताया कि मेरे घर में बदमाश घुसे हैं। दिया। इसके बाद पड़ोसी ने अपना फर्ज निभाकर पुलिस को सूचना दी।

पुलिस ने जैसे ही मकान को घेरा तो बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में एक बदमाश गोली लगने से घायल हो गया। जबकि दो अन्य बदमाश मकान में छिपकर पुलिस पर फायरिंग करते रहे। सूचना पर पूर्वी जोन के थानों की पुलिस घटनास्थल पहुंची और मकान को घेर लिया। देर रात तक बदमाशों को पकडऩे लिए कवायद जारी रही। इस बीच दोनों ओर से कई राउंड गोलियां चलीं। पुलिस आयुक्त समेत अन्य आला अफसर भी घटनास्थल पहुंचे और जायजा लिया।

श्याम नगर में हरिहर धाम के पास हरिओम अवस्थी का गंगा त्रिवेणी वाटिका के नाम से मकान है। हरिओम अवस्थी के दो इंजीनियर बेटे विजय और आशुतोष हैं। हरिओम दोनों के बेटों के साथ अमेरिका में रहते हैं। श्याम नगर के मकान में किराए पर एक परिवार रहता है। हाल में ही कोरोना संक्रमण बढऩे से स्कूलों की छुट्टी होने पर वह परिवार भी अपने गांव चला गया था। घर में ताला बंद था। मकान में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। यह कैमरे हरिओम के बेटों के मोबाइल से लिंक हैं।

देर रात मकान में बदमाशों के घुसने से सिक्योरिटी अलार्म का अलर्ट आया तो हरिओम ने पड़ोसी कर्मेंद्र द्विवेदी और आशुतोष मिश्रा को फोन करके घटना की जानकारी दी। पड़ोसियों ने इसकी सूचना कंट्रोल रूम को दी तो पहले श्याम नगर चौकी और चकेरी थाने की पुलिस पहुंची और बदमाशों को ललकारा तो बदमाशों ने पुलिस पर फायर झोंक दिया। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने फायरिंग की। पुलिस की फायरिंग से एक बदमाश गोली लगने से घायल हो गया। जिसे पुलिस ने दबोच लिया और उसे उपचार के लिए पास के अस्पताल भेजा है। मकान की चारों ओर से घेराबंदी की गई। देर रात तक घर में घुसे अन्य बदमाशों को निकलाने का प्रयास जारी रहा। 

Edited By: Dharmendra Pandey