कानपुर, जेएनएन। शहर में लव जिहाद के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं। बर्रा के बाद अब नौबस्ता में लवजिहाद का एक और मामला सामने आया है। जिसमें मजदूरी करने वाले युवक ने सातवीं की छात्रा को अपना नाम बदलकर पहले प्रेमजाल में फंसाया। उसके बाद बहला-फुसलाकर ले गया। छात्रा के स्वजन को जब इस बात की जानकारी हुई तो उन्होंने नौबस्ता थाने में शिकायत की। पुलिस ने आरोपित भाई- बहन को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि इसके बाद आरोपितों को छुड़ाने के लिए थाने के बाहर गुरुवार देर रात हंगामा हुआ।

नौबस्ता निवासी 13 वर्षीय सातवीं की छात्रा से पड़ोस के निर्माणाधीन अपार्टमेंट में मजदूरी करने वाले मो. उवैश ने बाबू नाम बताकर छात्रा से दोस्ती की। उवैश अजीतगंज का निवासी है। फोन पर दोनों की बात होने लगी। छात्रा के स्वजन का आरोप है कि गुरुवार को वह बड़ी बेटी के साथ बाजार गई थीं। तभी आरोपित बेटी को भला फुसलाकर ले गया।

छात्रा से कहा पुलिस के सामने परिवार के खिलाफ बोलना

पुलिस ने आरोपित को पकड़ा और छात्रा को बरामद किया। नौबस्ता थाना प्रभारी कुंज बिहारी मिश्र ने बताया कि छात्रा से पूछताछ में सामने आया है कि आरोपित की बहन ही उससे फोन पर बात करती थी। वहीं बहन के कहने पर ही बाबू उसे ले गया था। छात्रा ने बताया कि बाबू के घरवाले उससे कहते थे कि जब भी पुलिस से आमना सामना हो तब अपने घरवालों के खिलाफ बोलना। हम तुम्हारा धर्म परिवर्तन कराकर तुम्हे अपना लेंगे। थाना प्रभारी ने बताया कि छात्रा की मां की तहरीर पर आरोपित के खिलाफ गलत नाम बताकर दोस्ती करना, बहला फुसला कर ले जाने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। वही आरोपित की बहन गजाला के खिलाफ बहला फुसलाकर ले जाने में मदद करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। 

Edited By: Abhishek Agnihotri