घाटमपुर, जेएनएन। साढ़ थानाक्षेत्र के अकबरपुर बरुई गांव में पत्नी केे मायके से न लौटने पर करवाचौथ की भोरपहर एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वह दो दिन पहले पत्नी को लेने गया था, लेकिन उसने आने से मना कर दिया, इससे आहत होकर उसने अपनी जान दे दी।  सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

अकबरपुर बरुई गांव निवासी 36 वर्षीय अनिल कुमार बिहार के कटिहार जिले में रोल्ड गोल्ड ज्वैलरी का काम करते थे। भाई राजेश ने बताया कि बताया कि अनिल की शादी करीब नौ साल पहले जहानाबाद के पास सैकापुरवा निवासी गुडिय़ा से हुई थी। शादी के बाद उसके एक बेटा और एक बेटी है। राजेश के मुताबिक शादी के बाद दोनों में अनबन होती थी। गुडिय़ा पहले काफी साल मायके में ही रही। बीच में कुछ दिन वह ससुराल में रहने के बाद फिर करीब डेढ़ साल से मायके में थी। अनिल पिछले हफ्ते बिहार से लौटा था। दो से तीन दिन पहले वह पत्नी को लेने सैकापुरवा गया था। आरोप है कि वहां गुडिय़ा ने लौटने से इन्कार कर दिया और ससुरालियों ने अनिल के साथ अभद्र व्यवहार किया। इससे आहत होकर उसने करवाचौथ के दिन तड़के कमरे में छत के कड़े के सहारे फांसी लगाकर जान दे दी। घर वालों ने देखा तो तुरंत पुलिस को सूचना दी। इसके बाद उसका शव उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। साढ़ एसओ ने बताया कि पारिवारिक कलह में जान देने की बात सामने आई है। तहरीर के आधार पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी। 

Edited By: Shaswat Gupta