उन्नाव, जेएनएन। कानपुर-लखनऊ रेल रूट के मगरवारा रेलवे स्टेशन से कुछ दूरी पर करोवन रेलवे क्रॉसिंग के गेटमैन के सूझबूझ से जयपुर-लखनऊ एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त होने से बच गई। गेटमैन ने समय रहते ट्रेन को पहले ही रुकवा दिया। आरपीएफ ने गेटमैन के बयान के आधार पर मुकदमा दर्ज करके डंपर को कब्जे में लिया है।

कानपुर लखनऊ रेल रूट पर मगरवारा स्टेशन से 200 मीटर दूर करोवन रेलवे क्रॉसिंग पर गेटमैन जयपुर-लखनऊ एक्सप्रेस के आने का समय होने पर बूम फाटक बंद कर रहा था। इस बीच तेज रफ्तार डंपर चालक ने जल्दी निकलने के प्रयास में बूम में टक्कर मार दी। बूम फाटक टूटने पर चालक पटरी के बीच डंपर छोड़कर भाग निकला। इस दौरान गेटमैन ने रेलवे स्टेशन में सूचना देकर ट्रेन को पहले ही रुकवा दिया। घटना की वजह से जयपुर-लखनऊ एक्सप्रेस क्रॉसिंग से पहले करीब 10 मिनट तक रुकी रही। बाद में वैकल्पिक व्यवस्था गेट पर अपनाते हुए ट्रेन को रवाना किया गया।

गेटमैन उकेंद्र कुमार से जानकारी के बाद आरपीएफ व मगरवारा चौकी से पुलिस पहुंच गई। नई दिल्ली-लखनऊ स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस, नीलांचल एक्सप्रेस के साथ अप व डाउन में कुछ और ट्रेनों को कॉशन देकर निकाला गया। वैकल्पिक व्यवस्था में स्लाइडिंग बूम की मदद से रेल यातायात बहाल किया गया। आरपीएफ ने डंपर कब्जे में लेकर रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया है और चालक की तलाश कर रही है। डंपर करोवन से उन्नाव की ओर आने की जानकारी मिली है।

Edited By: Abhishek Agnihotri