हमीरपुर, जेएनएन। भले ही देश मे कानून कितना ही सख्त क्यों न हो लेकिन दहेज के लोभी अपने लालच से बाज नही आ रहे हैं। कुछ ऐसा ही मामला जरिया थाना क्षेत्र के बौखर गांव में सामने आया है। यहां शनिवार के दिन आइ बारात बगैर दुल्हन वापस लौट गई। दहेज में मनमुताबिक नेंग व डबल बैड  सेल्फ स्टार्ट बाइक के लिए युवक ने शादी बीच में रोक दी। दहेज की मांग पूरी न होने पर बरात ही वापस ले गया। मामले में अब दुल्हन का पिता पुलिस से गुहार लगा रहा है और न्याय की मांग कर रहा है। वहीं पुलिस ने मामले की जांच में जुटी है

 मजूदर की बेटी का रिश्ता मुस्करा थाने के बंडवा  गांव निवासी विपिन से तय हुआ था। विपिन बरात लेकर बंडवा से बौखर पहुंचा। जानकारी के अनुसार सब ठीक चल रहा था। दूल्हा-दुल्हन का जयमाल कार्यक्रम भी हो गया। लेकिन इसके बाद अचानक अंकित दहेज में बिना सेल्फ बाइक व सिंगल बेड देखकर भड़क गया। जिसके बाद गांव के सभ्रांत लोगों के साथ पंचायत की गई। सुबह 8:00 बजे बरात बिना विदा कराए वापस लौट गई लड़की के पिता ने बताया कि उन्होंने मजदूरी कर शादी के लिए पांच लाख रुपये जुटाए थे । 14 अक्टूबर को तय समय पर बारात भी आई लेकिन लड़के के माता-पिता 10 दिन पहले बाइक और दहेज का सामान भी देख गए थे। लेकिन अचानक जयमाल कार्यक्रम के बाद उनका मन बदल गया और दहेज की मांग करने लगे लड़का पक्ष के मन मुताबिक सोने की अंगूठी व नगद सहित 70 हजार का खर्च कर फलदान दिया। बरात लौटने की शिकायत पुलिस से की गई है चंडौत चौकी प्रभारी शिवम पांडे का कहना है कि किसी भी पक्ष द्वारा अभी तक तहरीर नहीं दी गई है, तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Shaswat Gupta