जागरण संवाददाता, कानपुर : गंगा बैराज स्थित अटल घाट पर मां गंगा की आरती में आस्था और उल्लास का संगम देखने को मिला। वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच गंगा आरती, नमामि गंगे नृत्य नाटिका व लेजर लाइट शो के अलौकिक दृश्य के अलावा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति ने वातावरण को भक्तिमय बना दिया।

गुरुवार को अटल घाट पर नगर निगम, जिला प्रशासन और श्रीमद्भागवत परिवार की ओर से आयोजित गंगा आरती में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, जलशक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह और औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने मां गंगा को पुष्प, दूध और चुनरी अर्पित कर पूजन अर्चन किया। इसके बाद शंखनाद और घंटा-घड़ियाल के बीच विधिविधान से मां गंगा की आरती हुई। वैदिक मंत्रोच्चारण करते हुए पुजारियों ने अटल घाट पर भक्तों को काशी की गंगा आरती की अनुभूति कराई। आरती के बाद पहली बार नाव पर मौजूद कलाकारों ने नमामि गंगे हर-हर गंगे थीम पर नृत्य नाटिका से सबको मंत्रमुग्ध किया। कलाकारों ने नमो-नमो शंकरा और बम लहरी गानों पर नृत्य किया। इसके बाद गंगा की धारा में लेजर लाइट शो के जरिए गंगा यात्रा का जीवंत दृश्य दर्शाया गया। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि अटल घाट अब काशी, हरिद्वार व प्रयागराज के बाद मां गंगा की दिव्य आरती के लिए पहचाना जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसी पावन धरती से अविरल गंगा निर्मल गंगा का संदेश दिया था। कहा कि गंगा में गिर रहे नालों को बंद किया जाएगा। उन्होंने शहरवासियों से रोजाना अटल घाट पर गंगा आरती करने का आह्वान किया। जलशक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह ने कहा कि मां गंगा का अद्भुत नजारा देखने को मिला। औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने कहा कि आज यह दृश्य देखकर मन प्रफुल्लित हो रहा है। उच्च शिक्षा राज्यमंत्री नीलिमा कटियार, आइटी एवं इलेक्ट्रानिक राज्यमंत्री अजीत पाल, कारागार मंत्री जय कुमार सिंह जैकी, सांसद देवेंद्र सिंह भोले, विधायक महेश त्रिवेदी, अभिजीत सिंह सांगा व सुरेंद्र मैथानी, एमएलसी अरुण पाठक व सलिल विश्नोई, मंडलायुक्त डॉ. राजशेखर, डीएम आलोक तिवारी, नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran