कानपुर, जेएनएन। रिवाल्वर संग फोटो वायरल होने के बाद आगरा में तैनात कानपुर की महिला सिपाही को इस्तीफा देना पड़ गया था और अब शहर में भारतीय जनता युवा मोर्चा की मंत्री मीनाक्षी गुप्ता का रिवाल्वर के साथ फोटो वायरल होने से राजनीतिक गलियारों में चर्चाएं तेज हो गई हैं। एक सप्ताह पहले घोषित जिला कमेटी में उन्हें शामिल किया गया है। हालांकि मीनाक्षी गुप्ता ने करीब आठ वर्ष पुरानी फोटो बताई है और भाई की लाइसेंसी रिवाल्वर होने की बात कही है।

भारतीय जनता युवा मोर्चा की उत्तर जिला इकाई में पिछले दिनों जिला कमेटी की घोषणा की गई थी। इसमें रामकृष्ण नगर निवासी मीनाक्षी गुप्ता को भी शामिल किया गया था। इसके ठीक बाद उनकी फेसबुक पेज पर लगी फोटो को कुछ लोगों ने वायरल कर दिया। इसमें वह रिवाल्वर लिए हुए नजर आ रही हैं। इसमें दो अलग फोटो वायरल की गई हैं। इसके बाद से युवा मोर्चा के कई कार्यकर्ता उनको संगठन में लिए जाने पर नाराज हैं। उनका कहना है कि मीनाक्षी गुप्ता ने संगठन में कभी कोई काम नहीं किया और उन्हें सीधे जिले की कमेटी में मंत्री बना दिया गया। जबकि बहुत से लोग ऐसे थे जो वर्षों से संगठन में काम कर रहे थे लेकिन उन्हें स्थान नहीं दिया गया। कार्यकर्ताओं ने उनके पिता लक्ष्मी शंकर गुप्ता पर भी मुकदमे होने की बात कही है।

इस संबंध में खुद मीनाक्षी गुप्ता का कहना है कि उनके पिता पूरी तरह भाजपा से जुड़े हुए हैं और उन्होंने जब से होश संभाला हमेशा से अपने परिवार में भाजपा के कार्यक्रम ही होते देखे। उनके भाई पार्षदी का चुनाव लड़े थे। उनके अनुसार यह लाइसेंसी रिवाल्वर है जिसका वह लाइसेंस भी दिखा सकती हैं। भाई की रिवाल्वर लेकर घर में फोटो खिंचाई थी जिसे फेस बुक पर डाला हुआ था। अब जब उन्हें जिले में मंत्री पद मिला तो जो पद हासिल ना कर पाए, उन्होंने फोटो को वायरल करना शुरू कर दिया। उनके मुताबिक यूं तो संग्रहालय के बाहर हम लोग तोप के साथ खड़े होकर भी फोटो खिंचाते हैं, तो क्या वे सभी अपराधी हो जाते हैं। उनके मुताबिक वह उन्नति सेवा संस्थान संचालित करती हैं। संगठन में उनके पास पहले कोई पद नहीं था। पार्टी के कार्यक्रमों में जरूर जाती थी। पिछले दिनों जिला पंचायत के चुनाव मेें भी वह लगातार पार्टी प्रत्याशी के साथ लगी रही थीं।

इस संबंध में युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष शिवांग मिश्रा का कहना है कि समाजसेवा के अच्छे कार्य करने की वजह से उन्हें संगठन में लिया गया है। यह फोटो भी बहुत पुरानी है। कानपुर बुंदेलखंड क्षेत्र के क्षेत्रीय अध्यक्ष मानवेंद्र सिंह ने कहा कि उन्हें अभी मामले की जानकारी नहीं है। इस बार में पूछताछ करेंगे।

Edited By: Abhishek Agnihotri