Move to Jagran APP

कानपुर में KDA की बड़ी कार्रवाई, 38 अवैध निर्माण किए गए सील; अफसरों के खिलाफ भी हो सकता है एक्शन

Kanpur News केडीए उपाध्यक्ष के सख्त तेवरों के चलते अभी और अवैध निर्माण सील होंगे। अभी तक केवल जोन एक में ही 38 अवैध निर्माण सील किए जा चुके हैं कई को नोटिस दी गई है। आने वाले समय में अफसरों पर भी कार्रवाई होगी। उपाध्यक्ष ने प्रवर्तन प्रभारियों से साफ कहा है कि किसी भी हाल में अवैध निर्माण न होने दिया जाए।

By Jagran News Edited By: Abhishek Pandey Published: Mon, 10 Jun 2024 07:46 AM (IST)Updated: Mon, 10 Jun 2024 07:46 AM (IST)
कानपुर में KDA की बड़ी कार्रवाई, 38 अवैध निर्माण किए गए सील; अफसरों के खिलाफ भी हो सकता है एक्शन

जागरण संवाददाता, कानपुर। केडीए उपाध्यक्ष के सख्त तेवरों के चलते अभी और अवैध निर्माण सील होंगे। अभी तक केवल जोन एक में ही 38 अवैध निर्माण सील किए जा चुके हैं, कई को नोटिस दी गई है। आने वाले समय में अफसरों पर भी कार्रवाई होगी।

उपाध्यक्ष ने प्रवर्तन प्रभारियों से साफ कहा है कि किसी भी हाल में अवैध निर्माण न होने दिया जाए। इनको रुकवाकर सील कराया जाए। सील होने के बाद भी निर्माण होता मिला तो भवन स्वामी पर मुकदमा दर्ज कराने के साथ ही जिम्मेदार अभियंताओं पर भी कार्रवाई होगी।

केडीए अभियंताओं की मेहरबानी से शहर सीमा से लगे इलाकों में बिना लेआउट के धड़ल्ले से प्लाटिंग हो रही है। उपाध्यक्ष मदन सिंह गर्ब्याल के आदेश पर नारामऊ में बन रही प्लाटिंग की जांच की गई। पता चला कि जिला पंचायत के लेआउट के आधार पर प्लाटिंग की गई और निर्माण कराने वालों ने नक्शा भी पास नहीं कराया। उपाध्यक्ष ने जांच के आदेश दिए हैं, इससे खलबली मची है। अभी और निर्माणों पर भी कार्रवाई होनी है।

उपाध्यक्ष मदन सिंह गर्ब्याल ने सभी प्रवर्तन प्रभारियों को आदेश दिए हैं कि हर हाल में अवैध निर्माण रोके जाएं। सील हो रहे निर्माणों की क्या स्थिति थी? इनके फोटो व वीडियो फाइल में लगाएं। जिससे वहां की स्थिति का पता चल सके। सील होने के बाद भी कार्य मिलने पर अवर अभियंता भवन स्वामी पर मुकदमा दर्ज कराएं।

कोपरगंज में एक ही परिसर में बिना नक्शे के बन रहे 20 निर्माण सील किए गए थे। इसमें कई की सील का पट्टा हटा दिया गया है। इसी कड़ी में चमनगंज में कई निर्माणों को लेकर नोटिस दी गई थी।

कर्नलगंज में हो रहे अवैध निर्माण को केडीए दस्ते ने 21 मई को नोटिस दी थी, लेकिन निर्माण रुकने की जगह तेजी हो रहा है। ऐसे ही सर्वोदय नगर में एक इमारत सील की गई थी, यहां भी निर्माण हो रहा है।

यही हाल दर्शनपुरवा, प्रेमनगर, चमनगंज, श्यामनगर, नारामऊ, कोपरगंज, कौशलपुरी, जवाहर नगर, नेहरू नगर, चमनगंज, इंदिरा नगर, कल्याणपुर, शारदानगर, पांडुनगर, शास्त्रीनगर और गोविंद नगर समेत कई इलाकों का है, जहां नक्शे के विपरीत निर्माण हो रहे हैं। इसके अलावा नौबस्ता, मछरिया, पनकी समेत कई इलाकों में प्लाटिंग हो रही है।

यह हैं जिम्मेदार

विशेष कार्याधिकारी जोन एक के रवि प्रताप सिंह, जोन दो के सत शुक्ला, जोन तीन के बृजेश उपाध्याय और जोन चार के अजय कुमार प्रवर्तन के प्रभारी हैं।

अभी और अवैध निर्माणों पर भी कार्रवाई की जाएगी। दोषी अफसरों और अभियंताओं पर भी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही सील होने के बाद भी निर्माण होते मिलने पर मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। -मदन सिंह गर्ब्याल, उपाध्यक्ष केडीए


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.