Move to Jagran APP

Kanpur Fire News: दस तस्‍वीरों में देखें कानपुर की खाक हुई रेडीमेट कपड़ा मार्केट, ईद के ल‍िए की थी खास तैयारी

Kanpur Fire News बांसमंडी स्‍थ‍ित रेडीमेट कपड़ा मार्केट में लगी आग को 12 घंटे हो चुके हैं। करीब 55 दमकल की गाड़‍ियां आग पर काबू पाने में जुटी हैं। इसके बाद भी दुकानें सुलग रही हैं। आग धधक रही हैं। 100 करोड़ से अध‍िक का नुकासन बताया जा रहा है।

By Jagran NewsEdited By: Prabhapunj MishraPublished: Fri, 31 Mar 2023 01:46 PM (IST)Updated: Fri, 31 Mar 2023 01:46 PM (IST)
Kanpur Fire News: कानपुर अग्‍निकांड की दस तस्‍वीरें

कानपुर, जागरण संवाददाता। अनवरगंज थाना क्षेत्र के बांसमंडी स्थित रेडीमेड गारमेंट के चार शापिंग कंपलेक्सों में गुरुवार देर रात भीषण आग लग गई। हमराज कंपलेक्स के बगल में स्थित चार मंजिला एआर टावर में सबसे पहले आग भड़की और देखते ही देखते आग हमराज कंपलेक्स, मसूद कंपलेक्स और नसीम टावर में भी फैल गई।

इन चोरों शापिंग कंपलेक्स की करीब 400 दुकानें आग से प्रभावित हुई हैं, जिसमें करोड़ों का नुकसान हुआ है। सुबह ग्यारह बजे तक आग बुझाने का काम चल रहा था। आसपड़ोस के जिलों की 55 से ज्यादा दमकल गाड़ियों के अलावा सेना को भी आग पर काबू पाने के लिए उतारा गया है।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक गुरुवार देर रात करीब दो बजे चार मंजिला एआर टावर की पहली मंजिल पर आग लगी देखी गई। इससे पहले कि कुछ किया जाता, रात चल रही तेज हवा की वजह से टावर के चारों मंजिल पर आग फैल गई। इसके बाद आग ने पड़ोस के हमराज कंपलेक्स, मसूद कंपलेक्स और नसीम टावर को भी चपेट में ले लिया।

आग की लपटें उठती देख कर राहगीरों ने पुलिस और फायर ब्रिगेड को सूचना दी। मौके पर अनवरगंज पुलिस के साथ मुख्य अग्निशमन अधिकारी दीपक शर्मा व लाटूश रोड मीरपुर फजलगंज और जाजमऊ आदि फायर स्टेशनों से करीब छह गाड़ियां मौके पर पहुंची और आग बुझाने का काम शुरू किया। जैसे-जैसे आग विकराल होती गई, आग बुझाने के इंतजाम भी पुलिस को बढ़ाने पड़े।

सुबह तक लखनऊ, उन्नाव, कानपुर देहात और फतेहपुर से फायर टेंडर बुलाकर आग बुझाने के लिए लगाने पड़े। करीब 55 फायर टेंडर, लखनऊ की हाइड्रोलिक फायर टेंडर के अलावा आग बुझाने के लिए सेना को भी लगाया गया है। इन चारों शापिंग कंपलेक्स में 700 से ज्यादा रेडीमेड गारमेंट की दुकानें बताई जा रही हैं।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक अब तक जो हालात दिखाई पड़ रहे हैं, उसमें करीब 400 दुकानें आग से प्रभावित हुई हैं। मुख्य अग्निशमन अधिकारी दीपक शर्मा ने बताया कि प्रथम दृष्टया मार्केट में शार्ट सर्किट से आग लगने की बात सामने आई है, जो बढ़ते हुए ऊपर की दुकानों तक जा पहुंची हादसे के कारणों की जांच की जा रही है।

बिल्डिंग में अग्निसुरक्षा मानकों की भी जांच कराई जायेगी। हादसे के पुलिस आयुक्त बीपी जोगदण्ड, संयुक्त पुलिस आयुक्त आनंद प्रकाश तिवारी सहित तमाम आला अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक इस हादसे में किसी के भी झुलसने की जानकारी अभी नहीं मिली है।

भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद, इलाका सील

अग्निकांड की सूचना मिलते ही प्रभावित दुकानदार मौके पर पहुंचे। साथ ही भीड़ भी बढ़ी। आग बुझाने के इंतजाम इसकी वजह से प्रभावित हुए, जिसके बाद क्षेत्र को सील कर दिया गया। केवल दुकानदारों को ही अंदर जाने दिया जा रहा है। सुबह तक दुकानदारों ने प्रभावित क्षेत्रों से अपना माल बारह निकालना शुरू कर दिया था।

ईद की हो रही थी तैयारी,करोड़ों के नुकसान का आंकलन

अग्निकांड में कितना नुकसान हुआ है, इसका अंदाजा लगाना अभी मुश्किल है। हालांकि पुलिस अधिकारियों के मुताबिक आग में करीब 400 दुकानें प्रभावित हुई हैं और नुकसान कई करोड़ों में हैं। यह इलाका शहर का गारमेंट हब है। ईद की तैयारियों के मद्देनजर यहां पर माल लाकर रखा गया थ। ईद की तैयारियों के चलते दुकानें में आम दिनों की अपेक्षा दोगुना माल लगा हुआ था। इसी वजह से नुकसान भी काफी हुआ है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.