Move to Jagran APP

कन्नौज में अखिलेश या सुब्रत पाठक, कौन बनेगा सांसद? सपा-भाजपा ने किया प्रचंड जीत का दावा; शुरू हुई जश्न की तैयारी

लोकसभा सीट कन्नौज (Kannauj Lok Sabha Chunav Result) पर किस प्रत्याशी के सिर जीत का ताज होगा। यह चार जून को मतगणना के बाद तय हो जाएगा लेकिन भाजपा और सपा प्रचंड जीत का दावा कर जश्न की तैयारी में है। खास बात यह है कि दोनों दलों के कार्यालयों में मतगणना की शाम को विशेष ढंग से जश्न की तैयारी की गई है।

By Jagran News Edited By: Abhishek Pandey Mon, 03 Jun 2024 04:16 PM (IST)
कन्नौज में अखिलेश या सुब्रत पाठक किसकी होगी जीत?

जागरण संवाददाता, कन्नौज। लोकसभा सीट कन्नौज (Kannauj Lok Sabha Chunav Result) पर किस प्रत्याशी के सिर जीत का ताज होगा। यह चार जून को मतगणना के बाद तय हो जाएगा, लेकिन भाजपा और सपा प्रचंड जीत का दावा कर जश्न की तैयारी में है। खास बात यह है कि दोनों दलों के कार्यालयों में मतगणना की शाम को विशेष ढंग से जश्न की तैयारी की गई है। दोनों ओर से एक क्विंटल से अधिक लड्डू बनाने आर्डर दे दिए गए हैं।

चार जून मंगलवार को नवीन मंडी समिति में मतगणना होगी। 13 मई को मतदान खत्म होने के बाद से ही सपा मुखिया अखिलेश यादव की जीत का दम भरा जा रहा है।

सपाइयों का कहना है कि जिले में उन्होंने कई विकास कार्य कराए हैं। इससे उन्हें हर समाज ने बढ़-चढ़कर वोट किया है। वहीं दूसरी तरफ केंद्रीय और राज्य सरकार की योजनाओं और मोदी-योगी की लहर से भाजपा के स्थानीय प्रत्याशी सुब्रत पाठक (Subrat Pathak) के व्यक्तिगत व्यवहार को लेकर पार्टी के नेता और कार्यकर्ता बड़ी जीत का दावा कर रहे हैं। हाल में जारी हुए एग्जिट पोल से अब भाजपा खेमा पूरी तरह जीत को लेकर आश्वस्त है।

यही कारण है कि दोनों दलों की ओर से चार जून की शाम को जश्न की तैयारी की गई है। पटाखे और फूल-माला से लेकर करीब एक क्विंटल से अधिक लड्डू बनाने के आर्डर दिए गए। शाम को भोजन का भी इंतजाम किया गया है।

भाजपा जिलाध्यक्ष वीर सिंह भदौरिया का कहना है कि भाजपा प्रत्याशी की जीत पक्की है। इससे कार्यकर्ताओं से लेकर पदाधिकारियों में उत्साह है और अभी से जश्न शुरू कर दिया गया है।

वहीं सपा जिलाध्यक्ष कलीम खान का दावा है कि कन्नौज से जब भी पार्टी मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने चुनाव लड़ा है, तो ऐतिहासिक जीत हुई है। इस बार भी ऐतिहासिक जीत होगी।

दही-जलेबी से सपाइयों की शुरू होगी दिनचर्या

किसी भी काम की शुरुआत से पूर्व दही चखना शुभ माना जाता है। इससे चार जून की सुबह मतगणना से पूर्व सपा एजेंट पार्टी कार्यालय में दही-जलेबी का नाश्ता करेंगे। इसके बाद छह बजे मतगणना स्थल रवाना होंगे।

इसे भी पढ़ें: बिहार में इंडी गठबंधन को कितनी आ रहीं सीटें? विजय सिन्हा ने यूपी में खुलकर बताया, बयान से मचेगी हलचल