जागरण संवाददाता, खुटहन (जौनपुर): स्थानीय चौराहे पर मंगलवार की रात हौसलाबुलंद पशु तस्करों ने जमकर तांडव मचाया। पिकेट ड्यूटी पर तैनात होमगार्ड के तीन जवानों को अपनी पिकअप गाड़ी घुमाकर रौंदने का प्रयास किया। तीनों ने भागकर जान बचाई। इसके बाद तस्करों ने दुस्साहस दिखाते हुए ड्यूटी से लौट रहे एक अन्य जवान के साइकिल में टक्कर मार दी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। इस मामले में जहां पुलिस कुछ भी बताने से इंकार कर रही हैं वहीं प्रत्यक्षदर्शी घटना को खूब चटकारे लेकर प्रचारित कर रहे हैं।

हिदुओं का पवित्र श्रवण मास चलने के कारण थाने से अधिकतर सिपाहियों की ड्यूटी प्रसिद्ध मंदिरों पर लगा दी गई है। कस्बा सहित स्थानीय चौराहे की सुरक्षा के लिए होमगार्डो को तैनात किया गया है। वे अपनी ड्यूटी पर मुस्तैद चल रहे थे। कस्बावासियों ने बताया कि आधी रात को अचानक एक पिकअप गाड़ी पिलकिछा की तरफ से तेज रफ्तार में आती दिखी। जिसे दूर से ही टार्च की रोशनी से रुकने का इशारा किया। पुलिस को देख चालक ने गाड़ी की रफ्तार और बढ़ा दी। उसकी मंशा भाप जवान टार्च लिए पटरी की दुकानों के बीच भागा। तभी पिकअप सवार चौराहे से गाड़ी मोड़ फिर उन्हीं तरफ बढ़ा दी। जिससे भयभीत जवानों ने जान बचाने के लिए बगल इंटर कालेज के मैदान की तरफ भागने में ही भलाई समझी।

आस-पास के लोगों ने बताया कि अभी पिकअप सवार चौराहे पर ही खड़े थे कि जौनपुर मार्ग से साइकिल से आते दो अन्य होमगार्ड जवान दिखे। बेखौफ तस्करों ने गाड़ी तेज स्पीड से उनकी तरफ बढ़ा दी। दोनों ने समझदारी दिखाते हुए अपनी साइकिल अस्पताल रोड पर मोड़ लिया। इस दौरान पिकअप ने साइकिल में पीछे से धक्का मार दिया। जिससे खुटहन गांव निवासी जवान अरविद यादव हो गया जबकि साथी इसी गांव के विजय प्रजापति बाल बाल बच गया। आधे घंटे से अधिक समय तक थाने के बगल चौराहे पर तस्करों का खूब तांडव चलता रहा। उसके बाद वे गाड़ी सहित फिर से पिलकिछा की तरफ भाग गए। इस बारे में पूछने पर कोतवाल दुर्गेश्वर मिश्रा ने घटना से इंकार किया। कहा कि झूठी अफवाह फैलाई जा रही है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस