- कोरोना मरीज के संपर्क में आए लोगों की जांच, किया सैनिटाइजर

- जालौन ब्लाक में 1000 लाभार्थियों को लगी वैक्सीन की डोज जागरण संवाददाता, उरई : जालौन ब्लाक में छह माह बाद कोरोना का संक्रमण दोबारा से शुरू हुआ। कोतवाली में की गई कोरोना की जांच में तीन पुलिसकर्मी समेत 18 कुल नये मरीज सामने आए है।

कोरोना संक्रमित पाए गए। जालौन कोतवाली में शनिवार को तैनात एक सिपाही की तबियत कुछ अस्वस्थ थी। वह इलाज के लिए सरकारी अस्पताल पहुंचा। जहां उसकी कोरोना की जांच की गई। कोरोना जांच में उक्त सिपाही कोरोना पाजीटिव पाया गया। सीएचसी प्रभारी डा. केडी गुप्ता ने बताया कि सिपाही के कोरोना पाजीटिव पाए जाने के साथ ही उसके संपर्क में आए सिपाहियों के साथ ही कोतवाली में तैनात अन्य स्टाफ की भी जांच की गई। जिसमें दो सिपाही और कोरोना संक्रमित मिले। डाक्टरों की टीम ने तीनों सिपाहियों को आइसोलेट किया है। वहीं पूरे जिले में 18 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। सीएमओ डा. एनडी शर्मा के निर्देश पर कोतवाली परिसर समेत सभी स्थानों पर सैनिटाइजेशन का काम किया जा रहा है। उधर, शनिवार को वैक्सीनेशन का अभियान चलाया गया। मौसम खराब होने के चलते इस बार वैक्सीनेशन कम हो पाया। फिर भी 15 से 18 वर्ष के 22 किशोरों का वैक्सीनेशन किया गया। 18 वर्ष से अधिक आयु और वैक्सीन की दूसरी डोज वाले 971 लोगों को वैक्सीन लगाया गया। इसके अलावा फ्रंटलाइन के नौ वर्करों को वैक्सीन की बूस्टर डोज दी गई। जिले में शनिवार को कुल 21 हजार 418 लोगों ने वैक्सीन की डोज का लाभ लिया।

Edited By: Jagran