जागरण संवाददाता, हाथरस : मथुरा रोड स्थित करवन नदी पुल पर रविवार शाम वाहन चेकिग के दौरान एक पुलिस कर्मी ने बाइक सवार के सिर पर डंडा मार दिया। अ‌र्द्धबेहोशी की हालत में उसे सीएचसी मुरसान में भर्ती कराया गया था, जहां से युवक अपने घर चला गया। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

फूल सिंह निवासी भरतपुर (राजस्थान) अपने भाई अनुभव के साथ हाथरस अपनी रिश्तेदारी में आया था। शाम के समय दोनों बाइक से लौट रहे थे। करवन नदी पुल पर एसआई अखंड उपाध्याय चेकिग कर रहे थे। फूल सिंह की बाइक पर नंबर नहीं था। इसलिए पुलिस ने उसे रोकने का प्रयास किया। बताते हैं कि उसने बाइक की रफ्तार कम नहीं की। इस पर सिपाही ने डंडा दिखाकर उसे रोकना का प्रयास किया। आरोप है कि बाइक न रोकने पर सिपाही ने फूल सिंह को डंडा मार दिया, जो कि बांयी कनपटी पर लगा। डंडा लगते ही वह सड़क पर गिर गया। चोट के कारण फूल सिंह बदहवास हो गया। इतने में राहगीर जमा हो गए। युवक के घायल होने पर पुलिस के होश फाख्ता हो गए। दो सिपाही युवक को उठाने पहुंचे। एकत्रित लोगों ने पुलिस कर्मियों को कोसना शुरू कर दिया। पुलिसकर्मी अपनी बाइक पर युवक को मुरसान सीएचसी लेकर गए। उपचार के बाद पुलिस ने उसे भरतपुर के लिए रवाना कर दिया। फूल सिंह या उसके भाई की ओर से किसी तरह की शिकायत नहीं की गई।

युवक के घायल होकर गिरने के बाद एक व्यक्ति ने घटनाक्रम का वीडियो बना लिया था। इस वीडियो में लोग कहते सुनाई दे रहे हैं कि पुलिस कर्मियों ने डंडा मारा है। कुछ ही देर में यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इससे मुरसान पुलिस के हाथ-पांव फूल गए। बाद में पुलिस ने सफाई दी कि युवक शराब के नशे में था। पुलिस से बचकर भागने के प्रयास में वह गिरा था। इनका कहना है

छानबीन में डंडा मारने की बात गलत निकली है। बाइक पर नंबर न होने के कारण युवक को रोका था। उसने एक बार बाइक रोक ली थी, लेकिन फिर भागने का प्रयास किया। इस प्रयास में वह ब्रेकर की वजह से गिर गया। चोट भी डंडे की नहीं है। इसके अलावा मुरसान सीएचसी पर हुए चिकित्सकीय परीक्षण से पता चला कि वह शराब के नशे में था।

-सिद्धार्थ वर्मा, एएसपी

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप