जासं, हाथरस : अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस एवं आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में मिशन शक्ति की कार्ययोजना के अनुसार महिला कल्याण विभाग ने विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया। इस दौरान बेटे एवं बेटियों को एक समान शिक्षा एवं आगे बढ़ने का अवसर देने पर जोर दिया गया।

प्रथम जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन महिला कल्याण अधिकारी मोनिका गौतम ने कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में किया, जिसमें महिलाओं एवं बालिकाओं को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एवं महिला कल्याण विभाग द्वारा संचालित समस्त विभागीय योजनाओं यथा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, राष्ट्रीय निराश्रित पेंशन योजना, स्पांसरशिप, फोस्टर केयर, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, रानी लक्ष्मीबाई एवं बाल सम्मान कोष, वन स्टाप सेंटर, 181, 1098 हेल्पलाइन की जानकारी प्रदान की। कन्या सुमंगला योजना के तहत पात्र बालिकाओं का चिह्नांकन भी किया गया।

जिला प्रोबेशन कार्यालय तहसील सदर में स्थित वन स्टाप सेंटर का स्कूली छात्राओं ने भ्रमण कर कार्यप्रणाली की जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर महिला कल्याण विभाग के संरक्षण अधिकारी विमल शर्मा, केंद्र प्रशासक मनीषा भारद्वाज, काउंसलर नीतू, लेखाकार चारू प्रिया शर्मा कनिष्ठ सहायक अमृता तिवारी मौजूद रहीं।

'नारी तू ही घर का गहना

तुझमें मां, बीवी व बहना'

फोटो-38

संसू, सासनी : अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर विज्ञान क्लब ने आनलाइन संगोष्ठी आयोजित की। राष्ट्रीय स्तर पर आनलाइन सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। मंच का संचालन सासनी विज्ञान क्लब की सह समन्वयक डा. सतना व सासनी विज्ञान क्लब की तमिलनाडु शाखा की सह समन्वयक प्रेया सुरेश कुमार ने किया। समन्वयक डा. पुष्पेंद्र सिंह ने स्वरचित कविता 'नियति नारी की' के माध्यम से बताया, 'बेटी को ना समझो भार, यह तो है जीवन का आधार।' कार्यक्रम में मुख्य अतिथि कल्पना गौड़, विशिष्ट अतिथि बबली तिवारी व अध्यापिका प्राथमिक विद्यालय बरसै डोली रहीं। कल्पना गौड़ ने अपनी कविता के माध्यम से बताया, 'नारी तू ही घर का गहना, तुझमें ही मां, बीवी और बहना।' सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता के प्रतिभागियों में ललितेश, भूमि सोलंकी, साक्षी को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। अन्य प्रतिभागियों में अंशिका वाष्र्णेय, मनीषा ग्रोवर, शिवानी वाष्र्णेय, आयशा, निशु, सानिया, सलमा, नेहा, साहिबा, प्रिया, कविता, मुस्कान, संध्या, भारत मिश्रा, विशेष कुमार को डिजिटल प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में रणजीत सिंह, अतुल गौतम, राहुल सागर, राजेंदर लवानियां, आलोक भारती, अभेंदर सिंह, राजकुमारी उपाध्याय, नीलम सिंह, गजरी गुप्ता, शैलेश, विम्मी वर्मा व सुजाता का सहयोग रहा।

Edited By: Jagran