हापुड़ [शुभम गोयल]। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के प्रथम और द्वितीय चरण के मतदान से पहले शनिवार को भाजपा ने 107 उम्मीदवारों की सूची जारी की है। जिसमें हापुड़ सीट पर विधायक विजयपाल आढ़ती को दोबारा से पार्टी ने मैदान में उतारा है। जिसके बाद कार्यकर्ताओं ने फूलमाला पहनाकर उनका स्वागत किया। बता दें कि विजयपाल आढ़ती वर्ष 2011 से भाजपा में सक्रिय हैं। सबसे पहले यह पार्टी में अनुसूचित मोर्चा के जिलाध्यक्ष बनाए गए। इसके बाद पार्टी ने इन्हें जिले का महामंत्री बनाया। वर्ष 2017 में विजयपाल को भाजपा ने हापुड़ विधानसभा सीट से प्रत्याशी बनाया और इन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी रहे पूर्व विधायक गजराज सिंह को हराया। करीब 20 सालाें बाद इस सीट पर भाजपा की जीत हुई।

अपने पांच वर्ष के कार्यकाल में विधायक कई बार चर्चाओं में रहे। बार-बार सरकार में इनके मंत्री बनने की चर्चाएं रहीं, लेकिन इनके स्थान पर दूसरों को मंत्री बनाया गया। बता दें कि विजयपाल आढ़ती दसवीं पास हैं, लेकिन राजनीति की इन्हें अच्छी समझ है। इस सीट पर भाजपा के करीब एक दर्जन पदाधिकारियों ने  आवेदन किया था।

त्रिकोणीय हुआ मुकाबला

विधायक विजयपाल आढ़ती के चुनावी मैदान में आने से हापुड़ सीट पर मुकाबला अब त्रिकोणीय हो गया है। भाजपा, बसपा और सपा-रालोद गठबंधन के बीच इस सीट पर कड़ा मुकाबला होगा।

यह प्रत्याशी मैदान में 

बसपा से मनीष सिंह मोनू, रालोद-सपा गठबंधन से पूर्व विधायक गजराज सिंह मैदान में हैं। गजराज सिंह ने तीन दिन पहले ही कांग्रेस का साथ छोड़ा था और रालोद की सदस्यता ली थी।

बता दें कि हापुड़ में 10 फरवरी को मतदान होगा। इसके लिए 14 जनवरी से नामांकन की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। वोटों की गिनती 10 मार्च को होगी।

Edited By: Mangal Yadav