हापुड़ [शुभम गोयल]। किसान आंदोलन के बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जाटों काे लुभाने के लिए भाजपा ने कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। शनिवार को जारी हुई टिकटों की सूची में एक बड़ा नाम शामिल किया गया है। पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चौधरी चरण सिंह की जन्मस्थली गांव नूरपुर निवासी हरेंद्र सिंह तेवतिया (प्रमुख) को पार्टी ने गढ़ विधानसभा क्षेत्र से टिकट दिया है। हरेंद्र सिंह पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के रिश्ते में पोते लगते हैं। पार्टी ने वर्तमान विधायक डा. कमल मलिक का टिकट काटा है।

बता दें कि हरेंद्र सिंह पूर्व जिला पंचायत सदस्य हैं। इन्होंने गढ़ विधानसभा सीट से पार्टी से आवेदन किया था। इनका जन्म 20 मई 1966 को गांव नूरपुर मढैया में हुआ था। पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह, हरेंद्र सिंह के स्व. दादा के छोटे भाई थे। हरेंद्र सिंह की पत्नी ममता तेवतिया वर्ष 2000 में ग्राम प्रधान बनीं। वर्ष 2005 में ममता तेवतिया पुन: ग्राम प्रधान निर्वाचित हुईं और हापुड़ ब्लाक की प्रमुख बनीं।

बता दें कि वर्ष 2010 में ममता तेवतिया दोबारा ब्लाक प्रमुख बनीं। वर्ष 2015 में हरेंद्र सिंह ने वार्ड संख्या 13 से जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ा और मेरठ मंडल में सबसे अधिक वोटों से जीत दर्ज की। इसके बाद वर्ष 2021 में पत्नी ममता तेवतिया तीसरी बार ब्लाक प्रमुख बनीं। हरेंद्र सिंह को टिकट मिलने के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर है। वहीं, पार्टी के एक खेमे में नाराजगी है।

इस सीट पर अभी तक कांग्रेस ने आभा चौधरी और बसपा ने मोहम्मद आरिफ को मैदान में उतारा है। सपा-रालोद गठबंधन ने अभी प्रत्याशी को मैदान में नहीं उतारा है। बता दें कि हापुड़ की तीनों विधानसभा सीटों पर मुकाबले के तस्वीर साफ होती जा रही है। यहां पर 10 फरवरी को मतदान तो 10 मार्च को परिणाम आएगा।

Edited By: Jp Yadav