जागरण संवाददाता, हापुड़:

कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में अपने मामा के घर रह रही युवती का उसकी मां ने ससुराल पक्ष के कुछ लोगों के साथ मिलकर अपहरण कर लिया। इतना ही नहीं महिला ने सगे भाई के साथ मारपीट कर 52 हजार रुपये लूट लिए। न्यायालय के आदेश पर महिला समेत तीन नामजद व एक अज्ञात आरोपित के खिलाफ कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई है।

गांव दादरी निवासी महीपाल ने बताया कि पहले पति की मौत के बाद बहन रेखा ने जनपद गाजियाबाद के थाना भोजपुरा क्षेत्र के गांव इसापुर निवासी दीपक के साथ विवाह किया था। पहले पति से बहन ने एक पुत्री को जन्म दिया था। जो पीड़ित के साथ ही रहती है। बहन के पति बाबूगढ़ क्षेत्र के गांव रसूलपुर निवासी मनोज के नाम पर कुछ जमीन है। मनोज की मौत के बाद उक्त जमीन उसकी भांजी के नाम पर आ गई। सरकार द्वारा उक्त भूमि का अधिग्रहण करने के चलते भांजी के बैंक खाते में दो करोड़ रुपये का मुआवजा जमा हुआ है।

आरोप है कि बहन व उसका दूसरा पति मुआवजे की धनराशि को हड़पना चाहते हैं। 26 जुलाई 2020 को पीड़ित बैंक से 50 हजार रुपये लेकर घर लौट रहा था। गांव के रास्ते पर पहुंचने पर कार में सवार उसकी बहन व पांच अन्य लोगों ने मिलकर पीड़ित को रोक लिया। पीड़ित को बेरहमी से पीटते हुए आरोपितों ने 52 हाजर रुपये लूट लिए। 11 जून 2020 को पीड़ित की गैरमौजूदगी में आरोपितों ने उसकी भांजी का अपहरण कर लिया। घर से 11 लाख रुपये की नकदी व लाखों की कीमत के जेवरात, भांजी के बैंक खाते की पासबुक, चेक बुक व एफडी के कागजात समेत अन्य भी दस्तावेज चोरी कर ले गए।

किसी तरह पीड़ित उक्त लोगों के चुंगल से भांजी को बचाकर लाया था। पीड़ित ने बताया कि उसकी बहन रेखा ने अपने पति की हत्या कर दी थी। वर्तमान में वह जमानत पर बाहर है। आरोपित उसकी भांजी की हत्या करना चहते हैं। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सुबोध कुमार सक्सेना ने बताया कि न्यायालय के आदेश पर रेखा, दीपक, नेत्रपाल, थाना मुरादनगर क्षेत्र के गांव दुहाई निवासी ललित व एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। मामले की जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran