जागरण संवाददाता, हमीरपुर : सरीला ब्लाक के इंदरपुरा गांव में चल रही खुली बैठक में प्रधान ने जमकर हंगामा किया। इस पर बैठक निरस्त कर दी गई। उसने गांव के ही एक वृद्ध को जमकर पीटा। जिससे उसकी आंखों में गंभीर चोटें आ गई।

इंदरपुरा गांव निवासी शंकर ¨सह (60) पुत्र अमरचंद्र ने बताया कि छह जुलाई को गांव के जूनियर हाईस्कूल परिसर में खुली बैठक का आयोजन किया गया था। जिसमें सचिव राममनोहर भी उपस्थित रहे। ग्राम प्रधान के भाई करन का कोटा निरस्त कर दिया गया है। जिससे ग्राम प्रधान राजकुमार कुछ ग्रामीणों से रंजिश मानता है। बैठक में पहले ग्राम प्रधान राजकुमार ने हंगामा किया और किसी की भी नहीं सुनी। हंगामे के चलते बैठक को निरस्त कर दिया गया। इसके बाद जब सभी लोग वहां से जाने लगे तभी ग्राम प्रधान राजकुमार उसके भाई करन तथा भतीजे प्रवेश व जीतू ने शंकर ¨सह को घेर लिया और गालीगलौज करने लगे। गाली देने से मना किया तो उक्त तीनों लोगों ने उसके साथ मारपीट करना शुरू कर दी। शोर सुनकर गांव के अन्य लोगों ने किसी तरह से बचाया। पीड़ित ने घटना की सूचना पुलिस को दी। जिस पुलिस ने ग्रामीण का मेडिकल कराया। हालत नाजुक होने पर उसे सदर अस्पताल में मेडिकल के लिए भेज दिया गया। वृद्ध ग्रामीण के आंखों में गंभीर चोटें आई हैं। वहीं पुलिस ने भी मारपीट की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

Edited By: Jagran