संवाद सहयोगी, राठ : मांगों को लेकर किसान भाकियू के बैनर तले मंडी गेट के सामने मुख्य मार्ग पर बैठ गए और जाम लगा दिया। यहां मंडी सचिव को ज्ञापन देकर मांग की है कि किसान विरोधी कानून वापस लिया जाए।

शुक्रवार को भारतीय किसान यूनियन के बुंदेलखंड महासचिव रामपाल राजपूत के नेतृत्व में कई किसानों ने नारेबाजी करते हुए मंडी गेट के सामने झांसी मार्ग पर बैठ गए और जाम लगा दिया। जाम से दोनों और वाहनों की लाइन लग गई। मौके पर पहुंचे मंडी सचिव वीरेंद्र कुमार को ज्ञापन देकर शीघ्र ही किसान विरोधी कानून वापस लिए जाने की मांग की। मंडी सचिव के आश्वासन पर आधे घंटे बाद जाम खुल सका। रामपाल सिंह राजपूत ने कहा संसद में किसान विरोधी कानून पारित किए जाने की जानकारी किसान संगठनों को हुई तो विधेयकों का विरोध किया गया। इस मौके पर विक्रम सिंह, जय सिंह, कालीदीन आदि किसान मौजूद रहे। बनाए जा रहे श्रमिकों के लिए स्कूल

जागरण संवाददाता, हमीरपुर : कोरोना काल में लोगों के स्वास्थ्य के साथ अब बच्चों की पढ़ाई पर भी ध्यान देने की जरूरत है। शिक्षा व्यवस्था को पटरी पर कैसे लाया जाए, यह एक बड़ा सवाल है। इसी को लेकर एक्शन एड, यूनीसेफ और आदित्य बिड़ला कैपिटल की ओर से भिलावां में पैरामेडिकल सभागार में जिला स्तरीय नेटवर्किग बैठक आयोजित की गई। इसमें प्रेरकों, एसएमसी सदस्यों व शिक्षा क्षेत्र जुड़े लोगों ने इस पर मंथन भी किया।

श्रम प्रवर्तन अधिकारी अरुण कुमार तिवारी ने विभाग की ओर से शिशु हित लाभ योजना, संत रविदास शिक्षा योजना सहित कई योजनाओं की जानकारी दी। कहा, नवोदय विद्यालय की तर्ज पर श्रमिक स्कूल का निर्माण कार्य चल रहा है। शीघ्र ही यह पूरा हो जाएगा। यहां पंजीकृत मजदूरों के बच्चों को शिक्षा दी जाएगी। बैठक में श्रम विभाग के सूरजभान सिंह, डॉ. एके चक्रवर्ती, रघवा प्रधान देवीदयाल, शबीना खातून, मंदाकिनी, यासमीन मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021