संसू, गोहांड : सरीला के कंधौली गांव में प्रगतिशील किसान के फार्म हाउस पहुंचे कृषि निदेशक यूपी सिंह ने जैविक खाद व दवा, मुसम्मी, हींग आदि के पौधे देखे और इस कार्य की सराहना की।

सरीला क्षेत्र के कंधौली गांव निवासी प्रगतिशील किसान राजेंद्र सिंह राजपूत ने जैविक व प्राकृतिक खेती कर इपोक सर्टिफिकेशन के सहयोग से जिले में बेहतर प्रयास किए। उन्होंने न केवल वर्मी कंपोस्ट खाद बनाने का काम किया बल्कि जीवामृत, डीकंपोजर कीटनाशक बनाने का बेहतर कार्य भी कर रहे हैं। इपोक सर्टिफिकेशन एजेंसी के सहयोग से जैविक क्लस्टर से 50 किसानों का ग्रुप भी चला रहे हैं। सभी किसानों को अपने ही फार्म हाउस में प्रशिक्षण भी देते हैं। शुक्रवार को लखनऊ से आए कृषि निदेशक यूपी सिंह ने प्रगतिशील किसान राजेंद्र सिंह के फार्म हाउस में जैविक दवा व खाद और मुसम्मी, हींग के पौधे आदि देख सराहना की। साथ ही जिले के जैविक जिला प्रभारी अधिकारी अंशधारी शुक्ला और कर्मचारी निशांत, अनुज, रंजीत ,रिशु, दयाकिशन राजपूत व रवि, सरीला से हरपाल सिंह उपस्थित रहे। राजेंद्र सिंह का कृषि विज्ञान कुरारा, जिलाधिकारी, कृषि विद्यालय बांदा द्वारा प्रगतिशील किसान के रूप में सम्मानित किया जा चुका है। यह जानकारी किसान राजेंद्र सिंह राजपूत ने दी।

Edited By: Jagran