देवरिया, जेएनएन। देवरिया के बरहज नगर में डीजे बजाने को लेकर शनिवार की रात एक युवक की आधा दर्जन हमलावरों ने घर में घुसकर पीट-पीटकर हत्‍या कर दी। हमलावर दूसरे समुदाय के बताए जा रहे हैं। पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों को हिरासत में ले लिया  है। घटना से आक्रोशित लोग रविवार सुबह से थाने में जुटे हैं। लोग आरोपितों को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं विरोध में दुकानें बंद हैं। नगर में तनाव को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। मौके पर जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक पहुंच गए हैं। घटना के बाद कुछ उपद्रवियों ने एक ध‍ार्मिक स्‍थल पर पथराव भी किया। गोरखपुर के कमिश्‍नर व आइजी भी घटनास्‍थल की तरफ रवाना हो चुके हैं।

नगर के  पटेल नगर वार्ड में श्री कृष्ण जन्माष्टमी का डोल रखा हुआ था, शनिवार की रात में डीजे बजाने को लेकर दूसरे समुदाय के लोगों ने आपत्ति जताई। इसको लेकर कुछ कहासुनी भी हुई। बाद में पहुंची पुलिस ने डीजे बंद करा दिया, लेकिन दूसरे समुदाय के आधा दर्जन लोग घर में घुसकर सुमित जायसवाल की रात को लगभग 12:30 बजे पिटाई कर दी। हमलावर लाठी-डंडा- तलवार लिए हुए थे। गम्भीर रूप से घायल सुनील को लेकर इलाज के परिजन जिला अस्पताल ले जा रहे थे। रात को एक बजे रास्ते मे युवक ने दम तोड़ दिया। हमलावरों की पिटाई से सुमित के पिता व भाई भी घायल हैं जिनका इलाज अस्पताल में हो रहा है।

डीएम, एसएसपी मौके पर पहुंचे
जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक सुमन जायसवाल के घर जाकर परिजनों से घटना के बारे में जानकारी ली और उन्हें आश्वासन दिया कि सुमित जायसवाल के हत्यारों को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा। उधर, पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सुमित के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम लगाई गई है जल्द ही परिणाम सामने आएगा इसमें किसी भी प्रकार की कोई ढिलाई नहीं बरती जाएगी।

सुमित जायसवाल की पत्नी की हालत बिगड़ी
बरहज नगर में अराजक तत्वों के हमले में मारे गए सुमित जायसवाल की पत्नी की हालत बिगड़ गई है। उनको अस्पताल में लाया गया है। चिकित्सक इलाज कर रहे हैं। वह हरा हरा कर काफी देर तक बेहोश हो रही हैं।

नहीं खुलीं दुकानें
बरहज में रविवाद को ज्यादातर दुकानें नहीं खुलीं। लोगों में सुनिल की हत्या को लेकर आक्रोश है। पुलिस बरहज नगर के विभिन्न मोहल्लों में गश्त कर रही है।
बरहज सीएचसी पहुंचे डीएम और एसपी घायलों से मिले
सुमित जायसवाल के पिता मुन्नू जायसवाल व छोटी भाई सचिन जयसवाल ओवरहेड स्थित सीएचसी में भर्ती कराया गया है।

जिलाधिकारी अमित किशोर व पुलिस अधीक्षक श्रीपति मिश्र ने घायलों का हालचाल पूछा और घटना के बारे में जानकारी ली। अस्पताल परिसर में भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। जिलाधिकारी ने एमएस को निर्देश दिया कि इलाज में किसी भी प्रकार की कोताही नहीं होनी चाहिए।
धार्मिक स्‍थल पर पथराव
घटना के विरोध में आक्रोशित युवकों ने एक धार्मिक स्थल पर पथराव किया इसको लेकर इलाके में अफरा-तफरी मच गई।



पुलिस छावनी में तब्दील हुआ बरहज
युवक की मौत होने के बाद पुलिस उस समय गंभीरता से नहीं ली, लेकिन भोर होते ही थाने पर लोगों का जमावड़ा होता देख पुलिस को उग्र आंदोलन का एहसास हो गया। बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ एएसपी शिष्यपाल पहुंचे और पूरे नगर को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। हर चौक-चौराहों पर थानाध्यक्ष तैनात किए गए हैं।

बरहज पहुंच रहे हैं आईजी व कमिश्नर
तनाव को देखते हुए कमिश्नर व आईजी बरहज पहुंच रहे हैं। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक पहले सुबह से बरहज कस्बे में मौजूद हैं।
धारा 144 लागू
जिलाधिकारी अमित किशोर ने तनाव को देखते हुए धारा 144 लागू किया है। इस मामले में छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है जिसमें तीन हिंदू व तीन मुसलमान हैं। आईजी ने 3 लोगों के गिरफ्तारी की पुष्टि की है।
सुमित के पिता व भाई तथा पत्नी की हालत गंभीर, जिला अस्पताल रेफर
सुमित जायसवाल के पिता मन्नू जायसवाल व भाई सचिन का उपचार बरहज स्थित सीएससी में चल रहा था। हालत गंभीर होने पर सीएचसी बरहज से जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया है। इसके अलावा हमले में मारे गए सुमित जायसवाल की पत्नी ज्योति घटना से सदमे में है, हालत गंभीर होने पर उसे भी जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है।
एसपी ने कहा, दो समुदायों नहीं दो गुटों में हुई मारपीट
देवरिया के पुलिस अधीक्षक श्रीपति मिश्र ने सोशल मीडिया पर चल रहे दो समुदाय के विवाद को खारिज करते हुए कहा है कि बरहज में दो समुदायों में नहीं बल्कि दो गुटों में मारपीट हुई थी। घटना में सुमित जयसवाल की मौत हो गई तथा दो लोग घायल हो गए। हमलावरों में से 3 की गिरफ्तारी हो चुकी है।


kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप