गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर से प्राइवेट ट्रेनों को चलाने की तैयारी तेज हो गई है। रेलवे बोर्ड के दिशा-निर्देश पर रेलवे प्रशासन ने शेड्यूल (कार्यक्रम, रूपरेखा) तैयार कर ली है। अब सिर्फ टाइम टेबल (समय सारिणी) बाकी रह गया है। समय सारिणी के लिए पूर्वोत्तर और अन्य जोन के अधिकारियों के बीच मंथन चल रहा है। जल्द ही समय सारिणी पर भी मुहर लग जाएगी।

फिलहाल, प्रथम चरण में गोरखपुर से दो प्राइवेट ट्रेनें चलाई जाएंगी। पहली ट्रेन गोरखपुर से मुंबई के बीच चलेगी। जो गोरखपुर से सप्ताह में मंगलवार, गुरुवार और रविवार को मुंबई के लिए रवाना होगी। दूसरी ट्रेन गोरखपुर से बेंगलुरु के बीच चलेगी। यह ट्रेन गोरखपुर से सप्ताह में बुधवार और गुरुवार को बेंगलुरु के लिए रवाना होगी। विभागीय जानकारों के अनुसार समय सारिणी तैयार होने के बाद टेंडर आदि की प्रक्रिया भी पूरी कर ली जाएगी। हालांकि, अभी इसमें वक्त लगेगा। लेकिन यह दोनों प्राइवेट ट्रेनें चल जाने से पूर्वांचल, नेपाल और बिहार के लोगों की राह आसान हो जाएगी गोरखपुर से मुंबई के लिए आधा दर्जन ट्रेनें चलती हैं। इसके बाद भी सामान्य दिनों में पूरे साल कभी भी कंफर्म आरक्षित टिकट नहीं मिलता है।

100 की रफ्तार से दौड़ेंगी ट्रेनें, नहीं मिलेगी रियायत

प्राइवेट ट्रेनें औसत 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेंगी। लेट नहीं होंगी। इन ट्रेनों में यात्रियों और रेलकर्मियों को किसी भी प्रकार की कोई रियायत नहीं मिलेगी। किराया नियमित चलने वाली ट्रेनों से अधिक होगा। प्राइवेट ट्रेनों का परिचालन भी रेलवे के हाथों में ही होगा। लोको पायलट और गार्ड रेलवे के होंगे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021