कुशीनगर : कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की एयर फ्लीट में शामिल वायुसेना का बोइंग बी-737 विमान दोपहर 12.10 बजे उतरा। उसने लैडिग व टेकआफ का पूर्वाभ्यास किया, एयरपोर्ट पर सुरक्षा संबंधी जांच भी की गई। विमान के पायलट ने तकनीकी पहलू का अध्ययन किया। यह पूर्वाभ्यास 20 अक्टूबर को एयरपोर्ट का उद्घाटन करने आ रहे पीएम की सुरक्षा को लेकर बताया जा रहा है।

इसके पूर्व भी इस विमान ने सात जून 2021 को यहां लैंड कर सुरक्षा जांच की थी। उतरने से पूर्व विमान ने रन-वे का दो चक्कर लगाया। पायलट ने इस दौरान लैंडिग व टेकआफ प्वाइंट और नेविगेशनल सिस्टम आदि की जांच की। एप्रन के चार नंबर प्वाइंट पर विमान पार्क कर पांच सदस्यीय चालक दल ने एयरपोर्ट अथारिटी के अधिकारियों से वार्ता की और तकनीकी पहलुओं को समझा। आधा घंटा एप्रन पर रुकने के बाद विमान 1.10 बजे दिल्ली के लिए रवाना हो गया। बी-737 बोइंग विमान प्रधानमंत्री के हवाई बेड़े का विमान है। देश विदेश में दौरे के लिए इस विमान का उपयोग प्रधानमंत्री के अतिरिक्त राष्ट्रपति व उपराष्ट्रपति भी करते हैं।

-------

चालक दल ने की रन-वे की तारीफ

बोइंग विमान के चालक दल ने 3200 मीटर लंबे रन-वे की तारीफ की। यह रन-वे प्रदेश का सबसे बड़ा रन-वे है। एयरपोर्ट के निदेशक एके द्विवेदी, प्रबंधक सुरक्षा संतोष मौर्य ने चालक दल का स्वागत किया और रन-वे, एटीसी से जुड़े तकनीकी पहलुओं की जानकारी दी। निदेश एक द्विवेदी ने बताया कि परीक्षण के तौर पर प्रधानमंत्री की फ्लीट का विमान आया था, एक घंटे तक जांच करने के बाद लौट गया।

Edited By: Jagran