कुशीनगर, जागरण संवाददाता। कुशीनगर जिले के कसया के बाड़ीपुल के पास राष्ट्रीय राजमार्ग 28 बी पर बुधवार की देर रात ट्रक और कार की आमने- सामने से भिड़ंत हो गई। हादसे में परिषदीय विद्यालय के शिक्षक की मौके पर ही मौत हो गई। कार सवार लेखाकर भी गंभीर रूप से घायल हो गया। उसका उपचार गोरखपुर स्थित एक निजी अस्पताल में चल रहा है। मृतक शिक्षक सहारनुपर के मूल निवासी थे।

मांगलिक कार्यक्रम में शामिल होने गए थे कार सवार लोग: जनपद के हाटा के प्राथमिक विद्यालय नंदन छपरा में तैनात शिक्षक जोरा सिंह व सुकरौली बीआरसी पर तैनात लेखाकार, कसया निवासी अखिलेश यादव पडरौना में आयोजित एक मांगलिक कार्यक्रम में भाग लेने गए थे। रात लगभग एक बजे पडरौना से लौटते समय बाड़ीपुल चौराहा के समीप कसया की ओर से आ रहे ट्रक में कार की सीधी भिड़ंत हो गई।

शिक्षक ने मौके पर ही तोड़ दिया दम: भीषण सड़क दुर्घटना में शिक्षक की मौके पर ही मौत हो गई। कार चला रहे लेखाकार गंभीर रूप से घायल हो गए। शोर सुनकर पहुंते स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आनन- फानन घायल को उपचार के लिए अस्पताल भेजा। उधर, शिक्षक के घर घटना की सूचना कसया पुलिस ने दी।

पुलिस बोली: प्रभारी निरीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि मृत शिक्षक के परिवार वालों को घटना की जानकारी दे दी गई थी। स्वजन मौके पर पहुंच गए थे। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

परिवार में मचा कोहराम: शिक्षक की मौत की खबर सुनते ही परिवार में कोहराम मच गया। घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है। वहीं परिवार वालों की चित्कार सुनकर आस- पास के लोगों की भी आंखें भर आईं। मौत की खबर मिलते ही परिवार व ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। सभी लोग परिवार वालों को ढाढंस बंधाते दिखे।

Edited By: Pragati Chand