गोरखपुर, जागरण संवाददाता : लिमिटेड डिपार्टमेंटल कंपटीशन एग्जाम (एलडीसीई) और जनरल डिपार्टमेंटल कंपटीशन एग्जाम (जीडीसीई) पास करने के बाद भी पदोन्नति नहीं होने से रेलकर्मियों में आक्रोश है। सहायक लोको पायलट और तकनीशियन की परीक्षा पास कर चुके चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी अभी भी रेल लाइनों की सफाई करने को मजबूर हैं।

नरमू ने प्रमुख मुख्य कार्मिक अधिकारी के समक्ष रखा मामला

एनई रेलवे मजदूर यूनियन (नरमू) ने इस प्रकरण को पूर्वोत्तर रेलवे की प्रमुख मुख्य कार्मिक अधिकारी के समक्ष उठाया भी है। रिक्त पदों पर भर्ती के लिए पत्र भी लिखा गया है लेकिन विभागीय स्तर पर कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही। नरमू के महामंत्री केएल गुप्त के अनुसार आल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन (एआइआरएफ) के महामंत्री शिव गोपाल मिश्र ने भी इस प्रकरण को रेल मंत्रालय के सामने रखा है। उन्होंने पूर्वोत्तर रेलवे सहित भारतीय रेलवे में एलडीसीइ और जीडीसीइ को लेकर जानबूझकर उदासीनता बरतने का आरोप लगाया है।

एक साल से पदोन्नति के लिए लगा रहे विभाग के चक्कर

पूर्वोत्तर रेलवे में तो परीक्षा के बाद मेडिकल की प्रक्रिया भी पूरी कर ली गई, लेकिन सैकड़ों रेलकर्मी पिछले एक साल से पदोन्नति के लिए कार्मिक विभाग का चक्कर लगा रहे हैं। उन्होंने रेलवे प्रशासन से सहायक लोको पायलटों और तकनीशियनों का पैनल जारी करने तथा सीधी भर्ती कोटा के तहत ग्रेड पे 1900 में जीडीसीइ के तहत दस फीसद ग्रुप डी के कर्मचारियों से भरने की मांग की है।

ब्रह्मानंद अध्यक्ष और अर्जुन कुमार बने महामंत्री

पूर्वोत्तर रेलवे पेंशनर्स एसोसिएशन की बैठक जेल रोड स्थित कैंप कार्यालय में हुई। इस दौरान केंद्रीय प्रबंध समिति का चुनाव हुआ, जिसमें ब्रह्मानंद सिंह अध्यक्ष, अमिय रमण कार्यकारी अध्यक्ष, अर्जुन कुमार कोहली महामंत्री तथा दिनेश शरण कोषाध्यक्ष चुने गए। इसके अलावा देवेंद्र मणि त्रिपाठी वरिष्ठ उपाध्यक्ष, राधेश्याम सिंह उपाध्यक्ष, एके वर्मा महामंत्री (हित), अजीत कुमार श्रीवास्तव संगठन मंत्री, मृदुला श्रीवास्तव संयुक्त मंत्री, अशोक कुमार सिंह कार्यालय मंत्री तथा सीपी राय आडिटर निर्वाचित हुए।

निर्धारित तिथि पर चलेगी आनंदविहार-कामाख्या

पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के कोलईग्राम-गुमानी हट रेलवे खंड पर नान इंटरलाक के चलते कुछ ट्रेनों का संचालन प्रभावित था, लेकिन रेलवे प्रशासन ने ट्रेनों का संचालन बहाल कर दिया है। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी के अनुसार 05622 आनंद विहार टर्मिनस- कामाख्या तथा 05621 कामाख्या-आनंद विहार टर्मिनस स्पेशल अपने निर्धारित तिथियों, समय, मार्ग और ठहराव के अनुसार चलेगी।

बालक को किया चाइल्ड लाइन के हवाले

रेलवे सुरक्षा बल की टीम को गोरखपुर स्टेशन पर गश्त के दौरान 13 वर्ष का बालक मिला। घर का पता और मोबाइल नंबर की जानकारी नहीं होने पर टीम ने बालक को चाइल्ड लाइन के हवाले कर दिया। यह जानकारी मुख्य जनसंपर्क अधिकारी ने दी।

Edited By: Rahul Srivastava