गोरखपुर, जेएनएन। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने को लेकर पूरे देश में लॉकडाउन है। इसके बाद भी देवरिया जिले में नवरात्र के समय शहर के पुरवा में एक महिला खुद को देवी रूप बता कर झाडफ़ूंक कर रही थी। पुलिस रोकने पहुंची तो महिला व उसके समर्थकों ने पुलिस टीम पर पथराव कर दिया। पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर छह महिलाओं समेत 13 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। 

झाड़-फूंक कराने पहुंची भीड़

पुरवा निवासी शिक्षक शिव प्रसाद यादव की पत्नी सुभद्रा खुद को देवी रूप बता कर नवरात्र में झाडफ़ूंक करती है। नवरात्र का समय होने के कारण भोर में ही उसके घर लोगों की भारी भीड़ एकत्र हो गई थी।

सूचना के बाद फोर्स के साथ पहुंचे एसडीएम

इसी बीच किसी ने जिला प्रशासन समेत पुलिस को सूचना दे दी। मौके पर एसडीएम डा.दिनेश मिश्र, सीओ सिटी निष्ठा उपाध्याय बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ पहुंचे। अफसर झाडफ़ूंक बंद कराने के साथ ही भीड़ हटाने लगे। मौजूद लोगों ने इसका विरोध करते हुए पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया।

आरोपित महिला समेत 13 गिरफ्तार

पुलिस ने किसी तरह से अपने बचाते हुए हल्का बल प्रयोग कर आरोपित महिला समेत 13 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। गिरफ्तार आरोपितों में पांच अन्य महिलाएं भी शामिल हैं।

महिला का शिक्षक पति निलंबित

झाडफ़ूंक करने वाली महिला का पति शिव प्रसाद यादव बैतालपुर विकास खंड के पूर्व माध्यमिक विद्यालय धतुरा खास में सहायक अध्यापक है। बीएसए प्रकाश नारायण श्रीवास्तव ने उसे प्रशासन का विरोध करने व कोरोना वायरस के संक्रमण फैलाने में रोकथाम की बजाए असहयोग करने के आरोप में निलंबित कर दिया। 

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस