Move to Jagran APP

Gonda Loksabha seat result: कीर्तिवर्धन ने जीत की हैट्रिक लगाते हुए तोड़ा पिता का रिकॉर्ड, इस मामले में स्‍थापित किया नया कीर्तिमान

कीर्तिवर्धन सिंह ने लोकसभा चुनाव में जीत की हैट्रिक लगाने के साथ-साथ अपने पिता का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है। इसके अलावा कीर्तिवर्धन सिंह ने पांचवीं बार सांसद चुने जाने के साथ ही नया कीर्तिमान भी स्‍थापित किया। कीर्तिवर्धन सिंह सपा के टिकट पर 1998 में भाजपा प्रत्याशी बृजभूषण शरण सिंह को हराकर पहली बार संसद पहुंचे। गोंडा लोकसभा सीट पर अब तक 17 चुनाव हो चुके हैं।

By Abhishek Nigam Edited By: Abhishek Nigam Tue, 04 Jun 2024 05:54 PM (IST)
कीर्तिवर्धन सिंह ने जीत की हैटिक लगाई

जागरण गोंडा। लोकसभा चुनाव में लगातार जीत की हैट्रिक लगाकर कीर्तिवर्धन सिंह ने सिर्फ नया रिकॉर्ड नहीं बनाया है, बल्कि पिता के चार बार जीत के कीर्तिमान को भी तोड़ दिया है। वह पांचवीं बार सांसद चुने गए हैं।

कीर्तिवर्धन सिंह के पिता आनंद सिंह पहली बार कांग्रेस के टिकट पर 1971 में सांसद चुने गए थे। 1980, 1984 व 1989 के बीच हुए तीन चुनावों में आनंद सिंह ने लगातार जीत दर्ज करके हैट्रिक लगाई थी। 1991 में वह भाजपा के बृजभूषण शरण सिंह से चुनाव हार गए। 1996 में वह सपा के टिकट पर चुनाव लड़े, इस बार भी उन्हें सांसद बृजभूषण शरण सिंह की पत्नी केतकी देवी सिंह से हार का सामना करना पड़ा।

लगातार दो चुनाव में हार के बाद आनंद सिंह ने अपनी राजनीतिक विरासत बेटे कीर्तिवर्धन सिंह को सौंप दी। कीर्तिवर्धन सिंह सपा के टिकट पर 1998 में भाजपा प्रत्याशी बृजभूषण शरण सिंह को हराकर पहली बार संसद पहुंचे। वह भाजपा के टिकट पर वर्ष 2014 और 2019 का चुनाव लगातार जीत चुके थे, इस बार भी उन्होंने जीत दर्ज करके हैट्रिक लगाई है।

कीर्तिवर्धन के नाम रिकॉर्ड दर्ज

गोंडा लोकसभा सीट पर अब तक 17 चुनाव हो चुके हैं। सबसे ज्यादा बार इस सीट से चुने जाने का रिकॉर्ड अब कीर्तिवर्धन सिंह के नाम दर्ज हो गया है। कीर्तिवर्धन सिंह ने पांचवीं बार और कुंवर आनंद सिंह ने चार बार लोकसभा में क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया है। वहीं बृजभूषण शरण सिंह ने इस सीट से दो बार जीत दर्ज की है, जबकि एक बार उनकी पत्नी केतकी देवी सिंह सांसद चुनी गई हैं।

गोंडा लोकसभा सीट से चुने गए सांसद

वर्ष सांसद दल

  • 1957 दिनेश प्रताप सिंह कांग्रेस
  • 1962 राम रतन गुप्ता कांग्रेस
  • 1964 नारायण दांडेकर स्वंतत्र पार्टी
  • 1967 सुचेता कृपलानी कांग्रेस
  • 1971 आनंद सिंह कांग्रेस
  • 1977 सत्यदेव सिंह जनता पार्टी
  • 1980 आनंद सिंह कांग्रेस
  • 1984 आनंद सिंह कांग्रेस
  • 1989 आनंद सिंह कांग्रेस
  • 1991 बृजभूषण शरण सिंह भाजपा
  • 1996 केतकी देवी सिंह भाजपा
  • 1998 कीर्तिवर्धन सिंह सपा
  • 1999 बृजभूषण शरण सिंह भाजपा
  • 2004 कीर्तिवर्धन सिंह सपा
  • 2009 बेनी प्रसाद वर्मा कांग्रेस
  • 2014 कीर्तिवर्धन सिंह भाजपा
  • 2019 कीर्तिवर्धन सिंह भाजपा
  • 2024 कीर्तिवर्धन सिंह भाजपा