गोंडा, संवादसूत्र। कर्नलगंज के फत्तेपुर गांव में तैनात सचिव नंदिनी मौर्या व विवेक श्रीवास्तव के बीच कमीशन को लेकर हुई तीखी नोकझोंक का आडियो वायरल हो रहा है। इसमें वह कह रही है कि एक रुपये मेरा कमीशन का दिए। तुम्हारे बाप की कमाई मांग रही हूं...। करीब दो मिनट 20 सेकंड के आडियो में कमीशन को लेकर हो रही बहस से अधिकारी भी सकते में हैं। इस मामले में खंड विकास अधिकारी श्रीकांत तिवारी ने ग्राम पंचायत सचिव से स्पष्टीकरण तलब किया है। Jagran.com ऐसे क‍िसी भी आड‍ियो की पुष्‍ट‍ि नहीं करता है। 

यह है पूरा मामला 

सचिव व ग्राम पंचायत फत्तेपुर की प्रधान जफरुल निशा का काम देख रहे विवेक श्रीवास्तव फोन पर बात कर रहे हैं। इसमें प्राथमिक विद्यालय फत्तेपुर, प्राथमिक विद्यालय मोहम्मदपुर कमियार, एएनएम सेंटर के भवन के मरम्मत में चार लाख रुपये खर्च होने की बात हो रही है। सचिव चहेती फर्म पर भुगतान चाह रही थी। कमीशन भी मांगने का आरोप है। डोंगल लगाने से मना कर दिया।

चहेती फर्म को भुगतान का बनाया दबाव 

ग्राम पंचायत अधिकारी ने प्रधान के सहयोगी बताए जा रहे युवक के फोन पर काल करके एक लाख एक हजार रुपये कमीशन अपनी चहेती फर्म के नाम भुगतान करने का दबाव बनाया। आडियो में कह रही है कि अपना कमीशन मांग रही हूं.. तुम्हारे बाप की कमाई नहीं। इसी के साथ आखिरी भुगतान होने की धमकी भी दी।

बीडीओ ने पत्र भेजकर मांगा स्‍पष्‍टीकरण 

ग्राम प्रधान ने विकास कार्य के लिए आए सरकारी धन में एक लाख एक हजार रुपये कमीशन मांगने वाली ग्राम पंचायत अधिकारी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करवा कर कार्रवाई किए जाने की मांग की है। खंड विकास अधिकारी श्रीकांत तिवारी ने कहा कि ग्राम पंचायत अधिकारी को पत्र देकर तीन दिवस के अंदर वायरल बातचीत के संबंध में स्पष्टीकरण मांगा है। अभी उनका जवाब नहीं मिला है। सचिव के बीमार होने की बात सामने आई है। जवाब न मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

पंचायत सच‍िव ने आरोप को गलत बताया 

उधर ग्राम पंचायत सचिव नंदिनी मौर्या ने अपने ऊपर लगाए गए आरोपों को बेबुनियाद बताया है। कहा कि विवेक श्रीवास्तव ने आडियो को काट छांटकर बनाया है। बदनाम करने व दबाव बनाकर भुगतान कराने के लिए आडियो को वायरल किया गया है। उन्होंने जांच में सहयोग किए जाने की बात कही है।

Edited By: Anurag Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट