गाजियाबाद, जेएनएन। गाजियाबाद जिले के कविनगर में एक व्यापारी के घर से डेढ करोड़ की चोरी के मामले में पुलिस ने चार आरोपितों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपितों में व्यापारी की गाड़ी का ड्राइवर भी शामिल है। ये जानकारी मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार ने प्रेस वार्ता करके दी।

एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि आरोपितों ने व्यापारी के घर का एक डुप्लीकेट चाबी बनाया था। ये लोग डुप्लीकेट चाबी से घर का ताला खोलकर ज्वैलरी चोरी कर ली। ये ज्वैलरी आरोपित बेचने की फिराक में थे। ये चोरी 27 जुलाई को गई थी।

ये है पूरा मामला
बदमाशों ने कविनगर चौकी के सामने शुक्रवार आधी रात पाइप कारोबारी के घर से सवा करोड़ रुपये की कीमत के सामान की चोरी कर ली थी। इसमें नकदी, ज्वैलरी व लाइसेंसी रिवॉल्वर शामिल है। ये चोरी डुप्लीकेट चाभी से घर का दरवाजा खोलकर चोरी की थी। शुक्रवार को कारोबारी पोती का जन्मदिन पर परिवार के साथ रेस्टोरेंट में खाने के लिए गए थे। आधी रात को लौटे तो चोरी का पता चला। शनिवार सुबह वह राज्यमंत्री अतुल गर्ग और फिर एसएसपी सुधीर कुमार सिंह से मिले, जिसके बाद थाना पुलिस ने मौके पर जाकर जांच की।

कविनगर चौकी से 100 मीटर से भी कम दूरी पर एल ब्लॉक स्थित कोठी में आरबी बंसल पत्नी अर्चना, बेटे अंकुश, पुत्रवधू इति और पोती विस्कू के साथ रहते हैं। वह लोहे व प्लास्टिक के पाइप का कारोबार करते हैं, जबकि अंकुश कंस्ट्रक्शन कारोबारी हैं। शुक्रवार को विस्कू पहला जन्मदिन था। घर पर केक काटने के बाद वह रात आठ बजे परिवार संग रेस्टोरेंट गए थे। आधी रात के बाद घर पहुंचे और मुख्य द्वार का ताला खोला तो अंदर पहले कमरे का दरवाजा खुला मिला, जिसमें चाभी लगी हुई थी। अंदर गए तो कमरों में सामान अस्त-व्यस्त था। चोरी का अंदेशा होते ही वह छत की ओर दौड़े तो दूसरी मंजिल से ऊपर जाने वाली सीढ़ियों का दरवाजा बंद मिला।

लाइसेंसी रिवॉल्वर भी ले गए
पीड़ित ने बताया कि छोटे भाई आरबी बंसल परिवार संग एक सप्ताह पहले श्रीलंका घूमने गए हैं। वह अपनी लाइसेंसी पिस्टल और कुछ रुपये उनके घर में रखकर गए थे। आरबी बंसल के मुताबिक घर से करीब सवा करोड़ रुपये की चोरी हुई हुई है। इसमें ज्वैलरी व नकदी के अलावा भाई की लाइसेंसी रिवॉल्वर भी शामिल है। चोर एक किलो सोने के गहने और लगभग 70 लाख रुपये घर ले गए थे।

साड़ी व बेडशीट की बनाई रस्सी
सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक रात 11:03 बजे दो चोर सामने से दीवार फांदकर अंदर घुसे और फिर डुप्लीकेट चाभी से कमरे का दरवाजा खोला। अंकुर के मुताबिक साढ़े 12 बजे के बाद वे लोग लौटे तो चोर घर में ही थे। आहट के बाद आरोपित छत के रास्ते भागे और दूसरी मंजिल के साथ जीने का दरवाजा भी ऊपर से बंद कर गए। पड़ोसी की छत पर कूदे और घर से लीं साड़ी व बेडशीट को बांधकर दोनों पिछली गली में उतर गए। पीछे के कैमरे में दोनों 12:41 बजे गली से बाहर निकलते हुए दिख रहे थे।

जमीन पर गिरे नोट नहीं उठाए
आरोपित डेढ़ घंटे से भी अधिक समय तक घर में रुके और दोनों मंजिल पर बने छह में से पांच कमरे इत्मिनान से खंगालते रहे। बेड और हर एक दराज खुली मिली। इसी कारण जब कारोबारी के लौटने की आहट हुई तो उन्हें आनन-फानन में भागना पड़ा। आरोपितों ने चांदी का करीब 3-4 किलो सामान एक साड़ी में बांधा था। जल्दबाजी में आरोपित इस पोटली के साथ वे 10-10 रुपये की 3-4 गड्डी भी छोड़ गए। वहीं गली में उतरकर भागते समय उनकी पोटली नोट गिरते रहे, लेकिन जमीन पर गिरे नोट उन्होंने नहीं उठाए। अंकुश के मुताबिक पिछली गली में करीब 20 हजार रुपये के नोट पड़े मिले।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस