देवरिया: बरहज क्षेत्र के ग्राम कटियारी में सोमवार को स्वदेशी जागरण मंच की तरफ से किसान सम्मेलन का आयोजन किया गया, जिसमें जैविक एवं देसी गौ आधारित खेती विषयक संगोष्ठी में विचार व्यक्त किए गए।

स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय संगठक कश्मीरी लाल ने दत्तोपंत ठेंगड़ी स्वदेशी व नर्सरी केंद्र का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि युवाओं को स्वरोजगार की तरफ प्रेरित करना होगा। जैविक खेती अपनाकर देश को आर्थिक रूप से मजबूत बना सकते हैं। जीरो बजट और नेचुरल फार्मिंग को अपनाना होगा। भारत में छोटे-छोटे उद्योगों की जगह मल्टीनेशनल कंपनियों ने ले ली है। जिससे हालात बदल गए हैं। उन्होंने कहा कि मल्टीनेशनल कंपनियां कर्मचारियों की छंटनी कर रही हैं। इससे रोजगार के अवसर खत्म होते जा रहे हैं। क्षेत्रीय संयोजक उत्तराखंड अजय, कृषि वैज्ञानिक देवेश शुक्ल,डा .रजनीश श्रीवास्तव ने भी स्वदेशी अपनाने और जैविक खेती पर विस्तार से जानकारी दी। डा. अजय मिश्र, केशव सिंह, कैप्टन मुकेश, रमाशंकर मिश्र ने भी संबोधित किया। संचालन सत्येंद्र तिवारी ने किया। अध्यक्षता अजय ने की। श्रीकृष्ण मोहन ने धन्यवाद ज्ञापित किया। इस दौरान अटल सिंह, जितेंद्र त्रिपाठी, प्रवीण, यशवंत सिंह, रामनिवास उपाध्याय, व्यास तिवारी, मनोज तिवारी आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम में नेशनल हेल्थ मिशन की तरफ से कैंप लगा लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। सुशील जिला संयोजक बनाए गए

देवरिया: संत विनोबा पीजी कालेज में स्वदेशी जागरण मंच की तरफ से स्वावलंबी एवं आत्मनिर्भर भारत विषय पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया। राष्ट्रीय संगठक कश्मीरी लाल ने कहा कि स्वदेशी भारतीय जनता व भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए वरदान है। इस मौके पर अजय, डा.शैलेंद्र कुमार राव ने संबोधित किया। इस मौके पर सुशील पांडेय को जिला संयोजक, डा. राजेश मिश्र को जिला सह संयोजक, सर्वेश त्रिपाठी को विचार विभाग प्रमुख, रविद्र त्रिपाठी को संपर्क एवं प्रचार प्रमुख, आदित्य विक्रम सिंह को युवा प्रमुख, डा.तूलिका पांडेय को महिला प्रमुख, प्रभात पर्यावरण प्रमुख, पुनीत त्रिपाठी को कोष प्रमुख, गौरव को संघर्ष वाहिनी प्रमुख, अर्चना को संस्कृति महिला प्रमुख बनाया गया। इस मौके पर प्राचार्य डा.वाचस्पति द्विवेदी, मकसूदन मिश्र, डा.सच्चिदानंद शुक्ल आदि मौजूद रहे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021