देवरिया:

भटनी चीनी मिल के साथ पास की जमीन व कब्रिस्तान भी बिक जाने का मामला रामपुर की विधायक गजाला लारी ने शुक्रवार को उठाया। उन्होंने फैक्ट्री के पास बसे लोगों को न उजाड़ने की पहल की है।

विधान सभा में रामपुर की विधायक गजाला लारी ने कहा कि प्रदेश में 21 शुगर फैक्ट्री के साथ ही पिछली सरकार ने भटनी चीनी मिल को भी औने-पौने दाम में बेच दिया। लगभग सवा अरब की चीनी मिल को मात्र पांच करोड़ में ही बेच दिया गया। फैक्ट्री की बुनियाद नूरी मियां ने रखी और उनकी बेटी की शादी लारी परिवार में हुई थी। जब चीनी मिल रखी गई तो काफी लोगों को चीनी मिल के पास बसाया गया। उस वार्ड का नाम ही नूरी गंज रख दिया गया। उस वार्ड में पांच दर्जन से ऊपर परिवार बसे हुए हैं। जब नूरी मियां का इंतकाल हुआ तो फैक्ट्री के बगल में ही कब्रिस्तान बनाया गया। कब्रिस्तान व बसे लोगों की भी जमीन बेच दी गई है। कब्रिस्तान व बसे लोगों को उजाड़ने से बचाया जाय। बता दें कि यह मामला अब न्यायालय में भी चल रहा है। इस जमीन पर लोगों ने स्थगन आदेश ले रखा है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर