जागरण संवाददाता, चित्रकूट : सांसद भैरों प्रसाद मिश्र ने प्रभु श्रीराम की तपोभूमि में रेल सेवा को बेहतर बनाने के लिए एक बार फिर मुखर दिखे। जबलपुर मंडल की बैठक में उन्होंने महाप्रबंधक के सामने तमाम सुझाव व प्रस्ताव रखे। उन्होंने कहा कि चित्रकूट और मैहर दोनों प्रमुख प्रसिद्ध तीर्थ स्थल हैं। हजारों के संख्या में प्रतिदिन लोग आते जाते हैं। दोनों धार्मिक स्थलों को जोड़ने के लिए एक इंटरसिटी ट्रेन चलाई जाए।

सांसद ने कहा कि इटवां डुडैला पूर्व में रेलवे स्टेशन था लेकिन दस्यु समस्या के कारण बंद कर दिया गया था। अब क्षेत्र के विकास के लिए फिर से इस स्टेशन को शुरू करने की जरूरत है। मानिकपुर और मारकुंडी रेलवे स्टेशन के बीच पड़ने वाला झरी रेलवे फाटक बीहड़ में है। ट्रेनों के आवागमन के कारण अक्सर यह फाटक बंद रहता है जिससे तमाम जीप, कार और अन्य छोटे वाहन में लोग घंटों खड़े रहते हैं कभी कभार डकैतों के कारण घटनाएं भी हो जाती हैं ऐसे में यहां पर अंडरब्रिज बनाकर इस समस्या का समाधान किया जा सकता है। सांसद ने आनंद बिहार-रीवां सुपर फास्ट ट्रेन को इलाहाबाद के बजाय मानिकपुर-चित्रकूट वाया कानपुर चलाने का भी प्रस्ताव रखा। साथ ही जनता एक्सप्रेस, सारनाथ एक्सप्रेस आदि किसी एक ट्रेन को मारकुंडी स्टेशन में खड़ा करने और मानिकपुर ग्रामीण हाल्ट स्टेशन बनाने का सुझाव दिया।

Edited By: Jagran